नई दिल्ली. जन अधिकार पार्टी के नेता और पूर्व सांसद पप्पू यादव को 32 साल पुराने हत्या और किडनैपिंग के मामले में गिरफ्तार किया गया है। अब इसपर उनकी पत्नी रंजीत रंजन में सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोला है। उन्‍होंने पप्‍पू यादव को हिरासत में लिए जाने के बाद कोई चिकित्‍सकीय सुविधा नहीं देने का आरोप प्रशासन पर लगाया है।

कांग्रेस की पूर्व सांसद रंजीत रंजन ने ट्वीट कर कहा, ‘नीतीश जी, पप्पू जी कोरोना निगेटिव हैं, अगर वह पॉजिटिव हुए तो आपको, इस साजिश में शामिल चार लोगों एवं एंबुलेंस चोरों को सीएम आवास से निकाल बीच चौराहे पर नहीं खड़ा किया तो मेरा नाम रंजीत रंजन नहीं।’

निगेटिव होने के बावजूद भेजे गए क्वारन्टीन सेंटर

उन्‍होंने कहा कि मजिस्‍ट्रेट ने पप्‍पू यादव को मेडिकल सपोर्ट देने को कहा है, लेकिन प्रशासन ऐसा नहीं कर रहा है। उल्‍टे उनके कोरोना निगेटिव होने के बावजूद क्‍वारंटीन सेंटर भेजा जा रहा है। उन्हें वीरपुर जेल भेजा गयं है। जिसका भवन इतना जर्जर है कि कभी भी गिर सकता है।

कांग्रेस ने भी जताया विरोध

कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव एवं कदवा से विधायक डॉ. शकील अहमद खान ने कहा कि पप्पू यादव की गिरफ्तारी यह दिखाती है कि अन्याय के खिलाफ जो भी आवाज उठाएगा, उसे इसी तरह जेल में जबरदस्ती डाल दिया जाएगा। सरकार को पप्पू की जगह भाजपा सांसद राजीव प्रताप रूडी पर मुकदमा दर्ज कर जेल भेज देना चाहिए था।

Pandit Rajan Mishra Hospital : पंडित राजन मिश्रा के नाम पर अस्पताल, बेटे ने कहा- पिताजी के नाम अब पूरा देश भी कर दो तो क्या होगा? वो तो बिना इलाज मर गए

Petrol and Diesel Prices Hike : नहीं थम रहे पेट्रोल-डीजल के दाम, राजस्थान और मध्यप्रदेश में कीमत 100 के पार, जानिए अपने शहर का रेट