नई दिल्ली. अखिलेश यादव की समाजवाजदी पार्टी से अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत करने वाली पंखुड़ी पाठक ने बेशक कांग्रेस का हाथ थाम लिया हो लेकिन वे असलियत में सपा नेता अनिल यादव का हाथ हमेशा के लिए थामने जा रही हैं. दोनों की शादी दिल्ली कैंट के वसुंधरा वाटिका में अगले महीने 1 दिसंबर 2019 को होगी. अनिल और पंखुड़ी पिछले काफी समय से एक दूसरे को पंसद करते थे जिसके बाद दोनों ने सात फेरे लेने का फैसला किया. परिवार के लोगों ने भी दोनों के प्यार को मंजूर कर लिया. 

 शादी बड़े ही हाई प्रोफाइल तरीके से होगी और इसमें समाजवादी पार्टी से लेकर कांग्रेस पार्टी के कई बड़े नेता भी शामिल होंगे. पंखुड़ी और अनिल की शादी की खबर के बाद सोशल मीडिया पर नेता मंत्री से लेकर आम लोग भी उन्हें शादी की बधाई दे रहे हैं. सभी को  1 दिसंबर का इंतजार है जब ये खूबसूरत जोड़ी दूल्हा-दुल्हन के रूप में नजर आएगा. लेकिन इससे पहले आपको बताते हैं पखुंड़ी पाठक और अनिल यादव के बारे में कुछ खास बातें-

नहीं था पॉलिटिकल बैकग्राउंड फिर भी राजनीति में आईं पंखुड़ी पाठक
दिल्ली की रहने वाली है पंखुड़ी पाठक के पिता डॉ जेसी पाठक और माता डॉ. आरती पाठक हैं. पंखुड़ी का एक छोटा भाई चिराग पाठक भी है. पंखुड़ी ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से लॉ की डिग्री हासिल की. साल 2010 में दिल्ली के हंसराज कॉलेज से ज्वाइंट सेक्रेटरी का चुनाव जीतने के बाद वह 18 साल उम्र से ही राजनीति में शामिल हो गई. इस तरह से उन्होंने राजनीति की शुरुआत छात्र राजनीति से ही शुरु कर दी थी. इसके बाद वह समाजवादी पार्टी में प्रवक्ता भी रहीं.

अखिलेश की सपा का दामन छोड़कर थाम लिया था कांग्रेस का हाथ 
साल 2016 में पंखुड़ी पाठक को समाजवादी पार्टी का प्रवक्ता बनाया गया था.लेकिन पिछले साल अगस्त में उन्हें पार्टी से हटा दिया गया. इसके बाद पंखुड़ी ने इस्तीफा दे दिया. लेकिन इस्तीफा देने के बाद पंखुड़ी ने ट्वीट कर सपा पर जमकर प्रहार किया. उन्होंने कहा- आठ साल पहले समाजवादी पार्टी की विचारधारा और युवा नेतृत्व से प्रभावित होकर मैं इससे जुड़ी थी. लेकिन आज वह विचारधारा और नेतृत्व दिखाई नहीं देती.सपा में जिस तरह राजनीति चलती है उससे मेरा दम घुटता है. उन्होंने यहां तक कहा कि मैं ब्राह्मण हूं इसलिए मेरे लिए सपा में कोई जगह नहीं था. वर्तमान में पंखुड़ी पाठक कांग्रेस की नेशनल मीडिया पैनलिस्ट है.

नोएडा में रहते हैं पंखुड़ी पाठक के जीवनसाथी अनिल यादव
अनिल यादव नोएडा के नवादा गांव में रहते हैं. वह समाजवादी पार्टी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के करीबी माने जाते हैं. अनिल सपा के पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता भी रहे हैं. अनिल सोशल मीडिया के साथ साथ उत्तर प्रदेश में एक जाना माना राजनीतिक चेहरा हैं.

फिलाहल अगले महीने अनिल और पंखुड़ी शादी के बंधन में बंधने वाले हैं. बताया जा रहा है दोनों की शादी के कार्ड भी छप चुके हैं और सगे-सबंधियों को भेजे जा रहे हैं. इससे पहले हाल ही में 21 नवंबर को कांग्रेस नेता अदिति सिंह और पंजाब कांग्रेस के नेता अंगद सिंह सैनी ने भी शादी की थी.

View this post on Instagram

Shaadi season 😀 #Bhaiyakishaadi

A post shared by Pankhuri Pathak (@pankhuripathak) on

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App