नई दिल्ली. अमेरिकी एक्ट्रेस पामेला एंडरसन ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक एक लेटर लिखा है. पामेला यूएस पेटा की मानद निदेशक भी हैं और उन्होंने ग्लोबल वार्मिंग, जलवायु परिवर्तन और बढ़ते प्रदूषण के स्तर पर अपनी चिंताओं को बताते हुए मोदी को एक पत्र लिखा है. इस लेटर में उन्होंने पीएम मोदी से सभी सरकारी आयोजनों में मांस और डेरी से बने उत्पादों को बैन किया जाए. इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि भारत में वीगन कल्चर को बढ़ावा दें.

पामेला ने अपनी चिंताओं को व्यक्त करते हुए कहा कि कैसे वैज्ञानिकों ने जलवायु परिवर्तन को एक आपात स्थिति के रूप में घोषित किया है. जिससे तुरंत निपटने की आवश्यकता है. नवीनतम रिपोर्टों के अनुसार, 36 मिलियन भारतीय 2050 तक बाढ़ के खतरे का सामना कर सकते हैं. इसके साथ ही भारत में कम से कम 21 शहर अगले साल के लिए शून्य भूजल स्तर तक पहुंच रहे हैं और 40 प्रतिशत भारतीय को साल 2030 तक पीने के लिए पानी नहीं मिल पाएगा.

वास्तव में, मांस और डेयरी कंपनियां दुनिया के सबसे बड़े प्रदूषक बनने के लिए तैयार हैं, और संयुक्त राष्ट्र ने चेतावनी दी है कि जलवायु परिवर्तन का मुकाबला करने के लिए शाकाहारी भोजन के लिए एक वैश्विक बदलाव आवश्यक है. जो कि एक विकल्प नहीं बल्कि एक आवश्यकता है. इसके साथ ही इन्होंने इस लेटर के अंत में लिखा कि पीएम मोदी न्‍यूजीलैंड, चीन और जर्मनी जैसे देशों को देख सकते हैं जिन्होंन मीट को लेकर सख्‍त कदम उठाए .

पिछले महीने, पामेला एंडरसन ने कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो को भी पत्र लिखा, जिसमें उन्हें सुधारात्मक सुविधाओं में पौष्टिक शाकाहारी भोजन परोसने के लिए कदम उठाने को कहा था. भारत में वीगन कल्चर से क्लाइमेट में बहुच  बड़ा अंतर आएगा. अगर भारत में वीगन सेलिब्रिटी की बात करें, विराट कोहली, सोनम कपूर, अनुष्का शर्मा, शाहिद कपूर सहित कई बड़े स्टार हैं. 

ये भी पढ़ें

पीएम नरेंद्र मोदी को लेकर गृह मंत्री अमित शाह का बड़ा खुलासा! तकनीकी रुकावटों के दौरान प्रधानमंत्री एयरपोर्ट्स पर ही रुकते हैं, नहाते हैं

 एसपीजी एक्ट में बदलाव करने जा रही नरेंद्र मोदी सरकार, लोकसभा में संशोधन बिल पेश, अमित शाह बोले- SPG का दायित्व है प्रधानमंत्री की सुरक्षा