नई दिल्ली. कुलभूषण जाधव को बीते 25 दिसंबर को परिवार से मिलाने के नाम पर उनकी मां और पत्नी के साथ की गई बदसलूकी को लेकर पाकिस्तान की खूब आलोचना हुई. ऐसे में एक नई चाल चलते हुए पाकिस्तान ने जासूसी के आरोप में अपने यहां कैद भारतीय नागरिक जाधव का एक नया वीडियो जारी किया है. इस प्रोपेगेंडा वीडियो में पाकिस्तान ने जाधव से भारत के खिलाफ जहर उगलवाया है. वीडियो में कुलभूषण ने कहा कि मेरी मां मुझे देखकर काफी खुश थी, मैं इसके लिए पाकिस्तानी की  सरकार का  धन्यवाद करना चाहता हूं. जाधव ने कहा कि उन्होंने अपनी मां से कहा है कि वे उनकी चिंता न करें पाकिस्तान उनकी अच्छी देखभाल कर रहा है और उनकी मां को इस बात का यकीन भी हो गया है. इसके अलावा उन्होंने कहा कि मुलाकात के वक्त मैंने अपनी पत्नी और मां की आंखों में डर देखा, उनके साथ आया भारतीय उच्चायोग का अधिकारी उनपर चीख रहा था. वीडियो में उन्होंने आगे कहा कि ‘मुझे भारत सरकार और भारतीय लोगों से एक खास बात ये कहनी है कि मैं नेवी का कमीशंड ऑफिसर हूं’.

बता दें कि पाकिस्तान ने 25 दिसंबर को कुलभूषण की उनके परिवार से मुलाकात का वीडियो भी जारी किया था उसमें भी उनसे भारत के खिलाफ जहर ही उगलवाया गया था. वहीं इस मुलाकात के बाद पाकिस्तान के जाधव की मां और पत्नी के साथ किए गए बर्ताव को लेकर खूब विवाद छिड़ा था. भारतीय में इसको लेकर खूब नाराजगी थी. दरअसल तब मुलाकात से पहले सुरक्षा के नाम पर कुलभूषण जाधव की मां और उनकी पत्नी की चूड़ियां, बिन्दी और मंगलसूत्र तक उतरवा दिए गए थे. उनकी मां ने वापस भारत लौटकर बताया था कि ऐसा लगा मानो उनका बेटा काफी दबाव में है. मामले में कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने कहा है कि पाकिस्तान का ये बर्ताव क्रूर, अमानवीय और निराशाजनक है. एक सभ्य देश को कभी ऐसा व्यवहार नहीं करना चाहिए.

गौरतलब है कि जाधव को साल 2016 में पाकिस्तानी सेना ने बलूचिस्तान से गिरफ्तार किया था. पाकिस्तान का आरोप है कि जाधव भारत की खुफिया एजेंसी के लिए काम कर रहा है. वहीं भारत का कहना है कि जाधव भारतीय नौसेना से रिटायर होकर ईरान में अपनी बिजनेस करने गए थे जहां से पाकिस्तान ने उनका अपहरण कर लिया.

कुलभूषण जाधव की मां और पत्नी के साथ हुई बदसलूकी से लेकर पाकिस्तान के प्रोपेगेंडा तक सुषमा स्वराज के भाषण की 10 बड़ी बातें

पाकिस्तान का एक और झूठा आरोप, कहा- कुलभूषण की पत्नी की जूतियों में जासूसी उपकरण लगा था

 

 

 

 

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App