नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 खत्म करने के भारत के फैसले से पाकिस्तान बौखला गया है. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने आर्टिकल 370 खत्म करने के फैसले की कड़ी निंदा करते हुए कहा है कि वो भारत के ‘गैरकानूनी’ और ‘एकतरफा’ फैसले की हर संभव जगह शिकायत करेगा और संयुक्त राष्ट्र तक इस मामले को लेकर जाएगा. पाकिस्तान ने बयान जारी कर कहा है कि आर्टिकल 370 हटाकर भारत ने कश्मीर से विशेष राज्य का दर्जा छीन लिया है जिसकी पाकिस्तान सख्त निंदा करता है.

गौरतलब है भारत सरकार ने सोमवार को अलग बिल पेश कर जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने का फैसला लिया था जिसमें जम्मू-कश्मीर से राज्य का दर्जा छीनकर उसे दो केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर और लद्दाख बना दिया था. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा कि दुनिया जानती है कि जम्मू-कश्मीर अंतराष्ट्रीय स्तर पर विवादित जगह है. पाकिस्तान ने आगे कहा कि भारत सरकार का कोई भी असाधारण कदम विवादित जगह को बदल नहीं सकती है और ये संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के तय नियमों के भी खिलाफ है. भारत सरकार का ये फैसला जम्मू-कश्मीर और पाकिस्तान के लोगों को कभी मंजूर नहीं होगा.

पाकिस्तान ने आगे कहा कि कश्मीर अंतराष्ट्रीय मसला है और उसकी एक पार्टी पाकिस्तान भी है जिसे वो हर अंतराष्ट्रीय मंच पर लेकर जाएंगे. पाकिस्तान ने ये भी कहा कि कश्मीर की आवाम के साथ पाकिस्तान राजनीतिक और भावनात्मक दोनों तौर पर जुड़ी है और वो उनके हक के लिए खड़ी रहेगी.

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि पाकिस्तान भारत सरकार के इस फैसले को संयुक्त राष्ट्र में चुनौती देगी. उन्होंने कहा कि मानवाधिकारों की रक्षा करने वाले संगठन इस मामले पर शांत नहीं बैठेंगे. कुरैशी ने कहा कि कश्मीर में हालात इतने बिगड़ गए हैं जितने पहले कभी नहीं बिगड़े थे. उन्होंने कहा कि हम कानूनी जानकारों से सलाह ले रहे हैं और भारत के फैसले को अंतराष्ट्रीय स्तर पर चुनौती देंगे.

Revocation of Article 370: ये हैं वो बेहतरीन बॉलीवुड फिल्में जिनकी शूटिंग हुई थी जम्मू-कश्मीर की वादियों में, धारा 370 हटने से अब फिल्मांकन और होगा आसान

Omar Abdullah On Revoking Article 370: जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाने के नरेंद्र मोदी सरकार के फैसले पर नेशनल कांफ्रेस नेता उमर अब्दुल्ला बोले- होंगे खतरनाक परिणाम, आगे की मुश्किल और लंबी लड़ाई के लिए हम तैयार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App