नई दिल्ली. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार को कोविड-19 महामारी की जानलेवा लहर से जूझ रहे भारत के लोगों के साथ एकजुटता व्यक्त करते हुए कहा कि मानवता के सामने आई इस वैश्विक चुनौती का हमें मिलकर मुकाबला करना चाहिए. खान ने एक ट्वीट में कहा कि हमारे पड़ोसी देश और दुनिया में महामारी से पीड़ित सभी लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने के लिए हमारी प्रार्थनाएं उन तक पहुंचे. उन्होंने ट्विटर पर कहा, मैं भारत के लोगों के साथ हमारी एकजुटता व्यक्त करना चाहता हूं, जो कोविड-19 के खिलाफ खतरनाक लड़ाई लड़ रहे हैं.हमें मानवता के सामने आई इस वैश्विक चुनौती का मिलकर मुकाबला करना चाहिए.

वहीं पाकिस्तान ने कोविड-19 की घातक लहर से लड़ने में मदद देने के लिए भारत को वेंटिलेटर समेत अन्य राहत सामग्रियां उपलब्ध कराने की पेशकश की है और कहा कि दोनों देश वैश्विक महामारी के कारण उभरी चुनौतियों से निपटने के लिए आगे सहयोग के संभावित तरीकों की संभावनाएं तलाश सकते हैं.

विदेश मंत्रालय ने शनिवार रात एक बयान जारी कर कहा कि पाकिस्तान तौर-तरीकों का पता लगते ही कुछ खास सामग्रियां भेजने के लिए तैयार है. बयान में कहा गया, ‘कोविड-19 की मौजूदा लहर के मद्देनजर भारत के लोगों के साथ एकजुटता के भाव से, पाकिस्तान ने भारत को वेंटिलेटर, बी पीएपी एवं डिजिटल एक्स-रे मशीनें, पीपीई तथा अन्य संबंधित वस्तुओं की सहायता देने की पेशकश की है.

इसमें कहा गया कि पाकिस्तान और भारत के संबंधित अधिकारी राहत सामग्रियों की त्वरित आपूर्ति के लिए तौर-तरीकों पर काम कर सकते हैं.

बयान में कहा गया, ‘वे (अधिकारी) वैश्विक महामारी के कारण आई चुनौतियों से निपटने के लिए आगे के सहयोग के तरीके तलाश सकते हैं।” यह पेशकश प्रधानमंत्री इमरान खान के भारत के लोगों के साथ एकजुटता दिखाने के बाद की गई है. उन्होंने कहा, “हमें मानवता के सामने आई इस वैश्विक चुनौती से मिलकर लड़ना होगा.’

कोरोना महामारी की दूसरी लहर का सामना कर रहे भारत में मेडिकल ऑक्सीजन की किल्लत बनी हुई है. राज्यों के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी का मामला न्यायालयों तक जा पहुंचा है. कोरोना का इलाज करने वाले अस्पतालों के पास मेडिकल ऑक्सीजन की मात्रा इतनी कम हो गई कि उन्हें ‘एसओएस’ संदेश भेजना पड़ा. भारत में ऑक्सजीन के लिए मची हाहाकार को पाकिस्तान भी सुन रहा है. पाकिस्तान में ट्विटर पर हैश टैग के साथ ‘इंडिया नीड्स ऑक्सीजन’ ट्रेंड कर रहा था.

भारत में ऑक्सीजन की कमी और इसकी बढ़ी मांग को देखते हुए पाकिस्तानी नागरिकों ने प्रधानमंत्री इमरान खान से ऑक्सीजन की आपूर्ति कर नई दिल्ली की मदद करने की मांग की थी. बीते कुछ दिनों में राजधानी दिल्ली के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी देखी गई.

Delhi Lockdown Extended : बढ़ते कोरोना के मामलों के बीच सीएम अरविंद केजरीवाल ने 3 मई सुबह 5 बजे तक बधाई लॉकडाउन की अवधि

Corona Cases in India : 24 घंटों में 3.49 लाख से ज्यादा कोरोना केस और 2,767 लोगों की मौत

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर