नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली में पहले हुक्का बार हुआ करते थे जहां लोग अलग-अलग फ्लेवर्स में मौजूद हुक्के का लुत्फ उठाते थे. खैर सरकारी आदेश के बाद हुक्का बार दिल्ली में पूरी तरह से बंद कर दिया लेकिन एक नए तरीके का बार दिल्ली वालों को तोहफे में मिला है और वो बार है ऑक्सिजन बॉर. अगर आप कई दिनों से पराली का धुआं झेल रहे अपने फेफड़ों की हालत पर तरस खाना चाहते हैं तो चले आइए ऑक्सिजन बार में जहां आपके फेफड़ों के लिए मौजूद है सात अलग-अलग फ्लेवर्स में मौजूद ऑक्सिजन गैस. खींचीए जितनी खींच सकते हैं लेकिन सिर्फ पंद्रह मिनट. पंद्रह मिनट ऑक्सीजन खींचने के बदले आपको देने होंगे 299 रुपये.

यानी 299 रूपये में पंद्रह मिनट के लिए मिलेगी आपके फेफड़ों को ऑक्सीजन. दिल्ली के साकेत में मौजूद ऑक्सी बार में लोग ऑक्सीजन खींचने आ रहे हैं. ग्राहकों से बाकायदा पूछा जाता है कि भाई बताओ कौन से फ्लेवर में ऑक्सिजन खींचोगे. अरोमास, स्पेरमिंट, पेपरमिंट, सिनेमन, ओरेंज, लेमनग्रास, इलुकेलिप्टस या लैवेंडर? बार के हेड स्टॉफ बोनी इरेंगबम के मुताबिक जो लोग बाहरी प्रदूषण को बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं वो ऑक्सिजन लेने बार में आ रहे हैं. उन्होंने बताया कि ग्राहकों को एक ट्यूब के जरिए ऑक्सीजन दी जाती है. उन्होंने ये भी बताया कि एक आदमी दिन में एक ही बार तय समय के लिए ही ऑक्सीजन ले सकता है.

दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में ऑक्सीजन बार खोलने का कॉन्सेप्ट बहुत पहले से चल रहा है लेकिन राजधानी दिल्ली में ये माहौल बन जाएगा किसने सोचा था? अगर आप फील्ड जॉब करते हैं या किसी वजह से बाहर ही रहने पर मजबूर हैं तो आप अच्छे से जानते होंगे कि कैसे सांस लेने में तकलीफ हो रही है. बच्चों के स्कूलों की छुट्टियां की जा रही है क्योंकि प्रदूषण का स्तर खतरनाक तरीके से बढ़ रहा है. बुजुर्गों को सांस लेने में तकलीफ हो रही है. बाहर निकलने में तकलीफ हो रही है. आखिर ये कौन सी दुनिया है जो हम अपने बच्चों के लिए बनाते जा रहे हैं?

Delhi Odd Even Fail: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- दिल्ली में ऑड ईवन से कोई असर नहीं, केंद्र सरकार से पूछा सड़कों पर कब लगेंगे एयर प्यूरीफायर

Arvind Kejriwal on Odd-Even Extension: सीएम अरविंद केजरीवाल का ऐलान- दिल्ली में प्रदूषण के हालात नहीं सुधरे तो 18 नवंबर से फिर ऑड ईवन संभव, सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार से मांगी रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App