Opposition On Ram Mandir Land Scam:  रविवार को उत्तर प्रदेश में बारिश होने के बावजूद सियासी गर्मागर्मी रही। समाजवादी पार्टी ने अयोध्या में और आम आदमी पार्टी ने लखनऊ में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर आरोप लगाया कि ट्रस्ट के सचिव चंपत राय ने, जो जमीन कुछ समय पहले सिर्फ दो करोड़ रुपये में बिकी थी, उसी जमीन को कुछ वक्त बाद 18.5 करोड़ रुपये में खरीद कर बड़ा घपला किया है। इस आरोप के यूपी की सियासत में भूचाल आ गया और विपक्ष के नेताओं ने सरकार को घेरा। आम आदमी पार्टी ने तो सीबीआई या ईडी से जांच कराने की मांग की है।

संजय सिंह के सवाल

आम आदमी पार्टी सांसद संजय सिंह कहा कि राम मंदिर निर्माण के लिए पहले एक भूमि 2 करोड़ रुपये में एक अन्य व्यक्ति द्वारा खरीदी गई। केवल 10 मिनट बाद वही भूमि राम मंदिर ट्रस्ट द्वारा 16 करोड़ रुपये की अधिक राशि देकर 18.5 करोड़ रुपये में खरीदी गई। आप सांसद ने कहा कि यह राम भक्तों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ है और प्रधानमंत्री को इस मामले में दखल देनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि, “लगभग 5.5 लाख रुपये प्रति सेकंड ज़मीन का दाम बढ़ गया. हिंदुस्तान क्या दुनिया में कहीं कोई ज़मीन एक सेकंड में इतनी महंगी नहीं हुई होगी. मैं मांग करता हूं कि इस मामले की तत्काल ईडी और सीबीआई से जांच कराई जाए और जो भी भ्रष्टाचारी हैं उनको पकड़ कर जेल में डाला जाए.”

कांग्रेस का वार

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि “करोड़ो लोगों में आस्था और भक्ति के चलते भगवान के चरणों में चढ़ावा चढ़ाया। उस चंदे का उपयोग अधर्म है, पाप है, उनकी आस्था का अपमान है।”

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने अपने ट्विटर वॉल पर लिखा कि हे राम, ये कैसे दिन… आपके नाम पर चंदा लेकर घोटाले हो रहे हैं…. बेशर्म लुटेरे अब आस्था बेच ‘रावण’ की तरह अहंकार में मदमस्त हैं… सवाल है कि दो करोड़ में ख़रीदी ज़मीन 10 मिनट बाद ‘राम जन्मभूमि’ को ₹18.50 करोड़ में कैसे बेची? अब तो लगता है …कंसों का ही राज है, रावण हैं चहुं ओर!

आस्था नहीं व्यापार का जरिया

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओपी राजभार ने ट्वीट कर योगी सरकार पर निशाना साधा है। मंदिर लोगों के लिए आस्था का केंद्र हो सकता है पर भाजपा/आरएसएस के लिए व्यापार का जरिया है. इस जमीन घोटाले से करोड़ो भक्तो के आस्था से खिलवाड़ हुआ है. मोदी जी और योगी जी बताए कब होगा इन ट्रस्टी लोगो पर मुकदमा? कब गिरफ्तार कर भेजे जाएंगे ये लोग जेल?

वहीं बीबीसी न्यूज़ की खबर के मुताबिक, वीएचपी के बड़े पदाधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर बताया है कि संगठन ने इन आरोपों को गंभीरता से लिया है और यदि आरोप सही पाए गए तो इसके ख़िलाफ़ आंदोलन किया जाएगा।

Ayodhya Ram Temple Land Scam : राम मंदिर जमीन खरीद पर घोटाले का आरोप, चंद मिनटों में करोड़ों बढ़े दाम

LJP MP Against Chirag Paswan : एलजेपी नेता चिराग पासवान को लग सकता है बड़ा झटका, चाचा पशुपति पारस सहित पांच सांसद हो सकते हैं जेदयू में शामिल