नई दिल्ली. राज्यसभा में कल हुए हंगामे को लेकर आज विपक्षी दलों के सांसदों ने संसद से विजय चौक तक पैदल मार्च किया। इस मार्च में कांग्रेस सांसद राहुल गांधी भी शामिल हुए। इस दौरान राहुल गांधी ने सरकार पर आरोप लगाया कि विपक्ष को संसद में बोलने की अनुमति नहीं है। यह लोकतंत्र की हत्या है।

राहुल गांधी ने कहा, ‘’सरकार ने किसानों के मुद्दे पर चर्चा नहीं करवाई, जासूसी कांड पर भी चर्चा नहीं करवाई।  सरकार विपक्ष की आवाज दबा रही है। देश की 60 प्रतिशत जनता की आवाज नहीं सुनी गई। जनता की आवाज का अपमान हुआ है। हम किसानों के मुद्दे संसद के अंदर नहीं उठा सके, इसलिए बाहर आए हैं। यह लोकतंत्र की हत्या से कम नहीं है।’’

वहीं, मार्च में शामिल शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा, ”मार्शल्स की ड्रेस में बाहर से प्राइवेट लोगों ने कल जो महिला सदस्यों के साथ किया, उससे लगा जैसे मार्शल लॉ लगा हो। मुझे लगा मैं पाकिस्तान बॉर्डर पर खड़ा हूं।” कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा कि सरकार इस देश को तानाशाही से चला रही है। ये देश की तासीर के खिलाफ है। विपक्ष को बोलने नहीं दिया जा रहा।

ऐसा कहा जा रहा है कि 15 पार्टियों के नेता और संसद से विजय चौक तक पैदल मार्च कर रहे हैं। पैदल मार्च करने के बाद विपक्ष के नेता राज्यसभा के सभापति वेंकैया नायडू से भी मिलेंगे। कल जनरल इंश्योरेंस बिल को लेकर राज्यसभा में ज़बरदस्त हंगामा हुआ था। विपक्ष ने सरकार पर मार्शलों के ज़रिए बदतमीजी का आरोप लगाया तो सरकार ने विपक्षी सांसदों पर मार्शल से मारपीट का आरोप लगाया।

Congress Leaders Twitter Account Block: ट्विटर की बड़ी कार्यवाही, राहुल गांधी के बाद अब कांग्रेस पार्टी समेत 5 बड़े नेताओं का अकाउंट ब्लॉक

Akhilesh Yadav Attack BJP: सपा मुखिया अखिलेश यादव का योगी सरकार पर तंज- बातों की खेती करने वाले चुनाव आने पर किसान सम्मेलन करेंगे

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर