Tuesday, July 5, 2022

बिहार में आंधी तूफान का कहर, 27 की मौत, ट्रेन सेवा भी बाधित

पटना। गुरुवार को बिहार के कई जगह में 25 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी-तूफान चला और फिर थोड़ी देर बाद कहीं हल्की तो कहीं तेज बारिश हुई। कई जगहों पर ओले भी गिरे. इस दौरान प्रदेश के अलग-अलग जगहों पर विभिन्न हादसों में 27 लोगों को जान की जान चली गई. जानकारी के मुताबिक मुजफ्फरपुर में मरने वालों की संख्या 5 बताई जा रही है. लखीसराय में भी एक मौत हुई है. भागलपुर में दो बच्चों की मृत्यु हुई है. जिले के पंजवारा धौलया स्टेट हाईवे 34 पर टैक्स गोदाम के पास तेज आंधी की वजह से वहां लगा बोर्ड सड़क पर जाम लग गया. इस आंधी तूफान से आम, लीची, मक्का, मूंग और सब्जी की फसल को काफी नुकसान हुआ है।

पटना में चली तेज हवा

बता दें कि करीब 3:30 बजे पटना में मौसम में एक दम बदलाव आया और लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली. लेकिन इस मौसम में तेज बारिश और आंधी ने भी अपने कहर बरसाया. आंधी तूफान इतना तेज था कि कुछ लोग तो अपनी जान नहीं बचा पाए. तो दूसरी और बाजार और घरों के बाहर निकले लोग रास्ते में तेज धूल भरी आंधी में फंस गए. हवा की रफ्तार 4 किलोमीटर प्रति घंटा से ज्यादा थी. जिसकी वजह से कई इलाकों में अंधेरा छा गया पटना संग्रहालय का एक पेड़ तेज हवा सड़क पर गिर गया. इसके अलावा थाना क्षेत्र के रोड पर एक महिला की पेड़ के नीचे दबने से मौत हो गई. तेज हवा की वजह से मुंगेर में गंगा नदी में एक नाव पलट गई. हालांकि इस घटना की कोई हताहत नहीं हुआ है. नाव में सवार लोग तैर कर बाहर निकल गए।

प्री-मानसून गतिविधियां अब सक्रिय हो गईं

मौसम विज्ञान के अनुसार वातावरण में नमी युक्त हवा का प्रवाह और तापमान में बढ़ोतरी के कारण मध्य बिहार से ट्रफ-रेखा गुजरने के कारण आंधी-बारिश हुई है. राज्य में प्री-मानसून गतिविधियां अब सक्रिय हो गई हैं। बीते कई दिनों से वायुमंडल के निचले स्तर पर पुरवा के प्रवाह से नमी की मात्रा में वृद्धि दर्ज की गई।

नाव में सवार लोग तेर कर बाहर निकल गए

जानकारी के मुताबिक गंगा नदी में नाव पलट गई. तेज हवा की कारण से मुंगेर के गंगा नदी में नाव पलटी. हालांकि इस घटना में कोई हताहत नहीं हुई. नाव पर मजदूर सवार थे, जोकि नाव डूबने के बाद तैरकर बाहर निकल आए. इसके अलवा चानन में ट्रेन का तार क्षतिग्रस्त होने की वजह से वंशीपुर स्टेशन पर सुपर एक्सप्रेस एक घंटे तक रुकी रही. जबकि मुंगेर जिले के खड़गपुर दरियापुर में आंधी में दीवार गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई।

जमुई में हवा में उड़ गए छप्पर

इस तूफान के कारण यहीं हाल जमुई जिले का भी रहा, जहां हवा की वजह से कई छप्पर उड़ गए और वहीं पर होर्डिंग हवा में उड़ गए. खगड़िया में बिजली आपूर्ति पूरी तरह ठप हो गई है. वहीं गोगरी में बीएसएनएल का मोबाइल टावर गिरने से एक महिला घायल बताई जा रही है. बांका के करड़ा गांव में ठनका की चपेट में आकर लालधारी यादव नाम के व्यक्कित की मौत हो गई. इसके अलावा में फसलों को नुकसान पहुंचा है. लीची की फसल पुरी तरह बर्बाद हो गई है।

यह पढ़े-

महंगाई का झटका: आज फिर बढ़े घरेलू एलपीजी सिलेंडर के दाम, जानिए कितने में मिलेगी घरेलू गैस

Latest news

Related news

<1-- taboola end -->