नई दिल्ली. टोक्यो ओलंपिक्स में एक एथलीट वेल्स अपने घर जाने से डर रही हैं। बेलारूस की स्प्रिंटर Krystsina Tsimanouskaya का कहना है कि अगर वे अपने देश वापस गईं तो उन्हें जेल में डाल दिया जाएगा।

क्रिस्टिस्ना के देश की ओलंपिक कमिटी ने उन्हें एयरपोर्ट से वापस बेलारूस ले जाने की भी कोशिश की जिसे इस एथलीट के फैंस ने किडनैपिंग भी करार दिया। दरअसल, क्रिस्टिस्ना एक 200 मीटर रनर हैं। उन्होंने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो पोस्ट किया था, जिसमें उन्होंने शिकायत की थी कि उनके कोच उन पर 4X400 रिले टीम जॉइन करने के लिए जबरदस्त दबाव बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनका इस स्पोर्ट्स इवेंट में कोई अनुभव भी नहीं है। इसके बावजूद उन पर ये दबाव बनाया जा रहा है।

इसके बाद क्रिस्टिस्ना ने ट्रिब्यूना.कॉम को एक इंटरव्यू भी दिया. उन्होंने इस इंटरव्यू में कहा कि मुझे इस बात का डर नहीं है कि वे मुझे नेशनल टीम से निकाल देंगे। मुझे अपनी सुरक्षा की चिंता है। मुझे लगता है कि वे लोग मुझे जेल में डाल देंगे।

क्रिस्टिस्ना ने जापान की एयरपोर्ट पुलिस से लगातार गुजारिश की कि उन्हें वापस बेलारूस ना भेजा जाए. इसके बाद जापान पुलिस ने उन्हें सुरक्षित लोकेशन पर भेज दिया है।

Rahul Gandhi on LAC: चीन विवाद पर राहुल का पीएम मोदी पर हमला कहा- पीएम मोदी और उनके चापलूसों ने हजारों किलोमीटर जमीन चीन को दी, कब वापस ले रहे हैं?

Muharram Guidelines: यूपी प्रशासन का आदेश- मुहर्रम में नहीं निकलेगा जुलूस, गाइडलाइंस की भाषा पर भड़के कल्बे जव्वाद कहा- ऐसी भाषा बर्दाश्त करने लायक नहीं, माफी मांगे डीजीपी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर