Monday, December 5, 2022

नूपुर शर्मा विवाद: ओवैसी ने अपने ही सांसद के बयान से किया किनारा, कहा- पार्टी का स्टैंड नहीं

नूपुर शर्मा विवाद: 

हैदराबाद। पूर्व बीजेपी प्रवक्ता नूपुर शर्मा के विवादित बयान को लेकर देशभर में बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी बीच ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन सांसद इम्तियाज जलील ने नूपुर पर बड़ा बयान दिया है। इम्तियाज ने विवादित टिप्पणी के लिए नूपुर को फांसी देने की मांग की है। औरंगाबाद सांसद के इस टिप्पणी से एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने किनारा कर लिया है।

पार्टी का स्टैंड नहीं

असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि नूपुर को कानून के अनुसार गिरफ्तार किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इम्तियाज जलील का बयान पार्टी का स्टैंड नहीं है। ओवैसी ने कहा कि पार्टी का रुख है, जिसका सभी को पालन करना होगा।

जलील ने दिया था ये बयान

बता दें कि इम्तियाज जलील ने इससे पहले कहा था कि इस्लाम शांति का धर्म है। लेकिन ये सच है कि नूपुर के बयान से लोग नाराज हैं। हम मांग करते हैं कि नूपुर शर्मा को फांसी की सजा दी जाए। AIMIM सांसद ने आगे कहा था कि अगर उन्हें (नूपुर शर्मा) आसानी से छोड़ दिया जाता है, तो इससे लोगों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचेगी।

नूपुर की गिरफ्तारी की मांग

गौरतलब है कि असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि नुपुर शर्मा को पैगंबर मोहम्मद के बारे में उनकी विवादास्पद टिप्पणी के लिए तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए। एआईएमआईएम प्रमुख ने कहा कि इस मुद्दे पर किसी को भी हिंसा में शामिल नहीं होना चाहिए कानून अपने हाथ में लेना चाहिए।

जानिए, क्या है नुपूर शर्मा विवाद

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रीय प्रवक्ता नुपूर शर्मा ने एक निजी टीवी चैनल की बहस में पैगंबर मुहम्मद के ऊपर कथित तौर पर विवादित टिप्पणी की थी। जिसके बाद नूपुर की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। भाजपा प्रवक्ता पर पैगंबर का अपमान करने का आरोप लगने लगा और और नुपूर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग भी उठने लगी। इसके बाद बीजेपी ने रविवार को नूपुर शर्मा को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से 6 साल के लिए निलंबित कर दिया।

ये भी पढ़े-

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news