असम। पेट्रोल की कीमत में वृद्धि के बाद अब इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (IOCL) ने एक नए प्रकार का पेट्रोल बाजार में उतारा है. पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू किए गए नए प्रकार के पेट्रोल से तेल की कीमतों में कमी आ सकती है. असम के तिनसुकिया जिले में पायलट प्रोजेक्ट के रूप में 15 प्रतिशत मेथनॉल के मिश्रण के साथ पेट्रोल ‘एम15’ लॉन्च किया गया है.

ईंधन की बढ़ती कीमतों से राहत मिलेगी

पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस राज्यमंत्री रामेश्वर तेली ने शनिवार को नीति आयोग के सदस्य वीके सारस्वत और आईओसी अध्यक्ष एसएम वैद्य की उपस्थिति में ‘एम 15’ पेट्रोल जारी किया. तेली ने कहा कि मेथनॉल के मिश्रण से ईंधन की बढ़ती कीमतों से राहत मिलेगी. दाम कम होने से आम आदमी को काफी राहत मिलेगी.

इंडियन ऑयल को आत्मनिर्भर बनाने का कदम

उन्होंने कहा, ‘एम15 पेट्रोल की पायलट रिलीज ईंधन के मामले में आत्मनिर्भर होने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है, इससे आयात का बोझ भी कम होगा. एक आधिकारिक बयान में मंत्री के हवाले से कहा गया कि इंडियन ऑयल भारत को ऊर्जा के मामले में आत्मनिर्भर बनाने के लिए यह कदम उठा रहा है.

पेट्रोल 105 रुपये से अधिक

यहां मेथनॉल की आसान उपलब्धता को देखते हुए इस पहल के लिए तिनसुकिया को चुना गया था. यह असम पेट्रोकेमिकल लिमिटेड द्वारा निर्मित है. आपको बता दें कि इस समय राजधानी दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 105 रुपये प्रति लीटर के ऊपर चल रही है. पांच राज्यों के चुनाव नतीजों के बाद तेल कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ा दिए थे. कंपनियों ने 22 मार्च से 6 अप्रैल तक कीमत में 10 रुपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी की थी.6 अप्रैल के बाद अब तक कंपनियों ने कीमतों में किसी भी तरह की बढ़ोतरी नहीं की है.

यह भी पढ़े:

गुरुग्राम के मानेसर में भीषण आग, मौके पर दमकल की 35 गाड़ियां

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर