कोलकाता: मोमो व्हाट्सअप गेम चैलेंज ने भारत में दस्तक दे दी है. खबरें तो हैं कि मोमो गेम की वजह से अजमेर में 10वीं की छात्रा ने फांसी लगाई कर अपनी जान दे दी है. इस सनसनी के बाद पश्चिम बंगाल में जलपाइगुड़ी कॉलेज की छात्रा ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है कि उसे मोमो गेम के लिए इनवाइट किया गया है जिसके तुरंत बाद पुलिस हरकत में आ गई. छात्रा ने बताया कि उसे मोमो सुसाइड गेम चैलेंज के लिए उकसाया गया.

कॉलेज छात्रा ने पुलिस शिकायत में बताया कि उसका मां के साथ झगड़ा हो गया था जिसके चलते उसने सोशल मीडिया पर स्टे्टस शेयर किया था कि वह अपनी जान देना चाहती है. इस पोस्ट के कुछ देर बाद ही उसे एक अज्ञात नंबर से मैसेज मिला जिसमें उसे मोमो व्हाट्सअप सुसाइड गेम के लिए इनवाइट किया गया. जब छात्रा ने मैसेज भेजने वाले की पहचान करने की कोशिश की तो उसके हाथ कुछ नहीं लगा. जिसके बाद छात्रा घबरा गई.

कॉलेज छात्रा के भाई ने इस गेम के बारे में पहले ही सचेत किया था जिसके बाद तुरंत छात्रा ने पुलिस में शिकायत की और पुलिस ने इस मामले में कार्यवाई करना शुरू कर दिया है. बता दें ब्लू गेम और किकी चैलेंज के बाद मोमो गेम इंटरनेट पर खूब वायरल हो रहा है. रूस में इस गेम की वजह से 130 खुदकुशी के मामले सामने आए हैं और कई देशों की पुलिस इस खेल को लेकर चिंता व्यक्त कर चुके हैं. पुलिस ने सभी परिजनों को सलाह दी है कि वह बच्चों की गतिविधियों पर नजर रखें. खासतौर पर वह मोबाइल फोन से जुड़ी गतिविधियों पर.

जामिया मिलिया इस्लामिया से डिप्लोमा करने वाले आमिर अली की मुरीद हुई अमेरिकी कंपनी, ऑफर किया 70 लाख का पैकेज

ब्लू व्हेल के बाद मोमो व्हाट्सएप चैलेंज से हड़कंप, अजमेर में छात्रा नस काटकर फांसी पर लटकी