नई दिल्ली. कानून की आड़ में फांसी से बच रहे निर्भया गैंगरेप के दरिंदों को लेकर दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने नया डेथ वारंट जारी कर दिया. अब चारों आरोपियों को 20 मार्च सुबह 5.30 मिनट पर फांसी दी जाएगी. चारों की फांसी 6 मार्च को होनी थी लेकिन एक आरोपी की दया याचिका लंबित होने की वजह से कोर्ट ने अगले आदेश तक डेथ वारंट पर रोक लगा दी थी. यह चौथी बार है जब निर्भया गैंगरेप के दोषियों के खिलाफ अदालत ने डेथ वारंट जारी किया.

आरोपियों के खिलाफ पहले जारी हुए तीन डेथ वारंटों में ये सभी कानूनी दांवपेच लगाकर फांसी से बच गए लेकिन अब इनके पास कोई रास्ता नहीं बचा है. चारों दोषियों की दया और क्युरेटिव याचिका राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद खारिज कर चुके हैं. ऐसे में अब आरोपियों का 20 मार्च की सुबह फांसी पर लटकना करीब- करीब तय माना जा रहा है.

पटियाला हाउस कोर्ट से नए डेथ वारंट जारी होने पर निर्भया की मां ने खुशी व्यक्त की है. निर्भया की मां आशा देवी ने कहा कि चौथी बार डेथ वारंट जारी हुआ, ऐसे में अब उनके पास कोई भी कानूनी विकल्प नहीं बचा है लेकिन जब तक सभी को फांसी नहीं हो जाती, हम लोग लड़ने के लिए तैयार हैं. निर्भया की मां ने कहा कि जीत उसी दिन होगी जिस दिन फांसी होगी.

बता दें कि अदालत में सुनवाई के दौरान सरकारी वकील रवि काजी ने कहा कि चारों दोषियों के सभी कानूनी विकल्प अब खत्म हो चुके हैं. दूसरी ओर दोषियों के वकील एपी सिंह ने कोर्ट में कहा कि वे दोषी पवन गुप्ता से मिलने के लिए समय चाहते हैं. एपी सिंह ने कोर्ट में कहा कि पवन नहीं समझ पा रहा है कि राष्ट्रपति ने उसकी दया याचिका कैसे खारिज कर दी.

Nirbhaya Gangrape Case: फिर टली निर्भया गैंगरेप दोषियों की फांसी, अदालत ने अगले आदेश तक डेथ वारंट पर लगाई रोक

Flipkart Co-founder Sachin Bansal Dowry Harassment: फिल्पकार्ट को फाउंडर सचिन बंसल की पत्नी ने लगाया दहेज उत्पीड़न का केस, शिकायत दर्ज

One response to “Nirbhaya Gangrape Case: गैंगरेप दोषियों का नया डेथ वारंट जारी, 20 मार्च को फांसी, निर्भया की मां बोलीं- जीत उसी दिन होगी”

  1. वकील ए पी सिंह यह मुकदमा अपनी माँ की खुशी के लिए लड़ रहे हैं। क्या माँ से कभी पूछा कि यदि निर्भया उनकी बेटी होती तो क्या करते?

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App