नई दिल्ली. pakistan पाकिस्तान जेल में बंद 20 भारतियों मछुआरों को रविवार को रिहा कर दिया गया. सोमवार को सभी भारतीय मछुआरों की बाघा बॉर्डर से वतन वापसी होगी। इन सभी मछुआरों को पाकिस्तान के आधिकारिक क्षेत्र में मछली पकड़ने की वजह से गिरफ्तार किया गया था. सभी 4 साल की सजा के बाद कल अपने देश में वापसी करेंगे। सभी लोगों को सोमवार को अधिकारीयों को सौपने के लिए बाघा बॉर्डर लाया जाएगा और दस्तावेज़ों के आदान प्रदान के बाद प्रक्रिया पूरी होगी.

लांधी जेल के अधीक्षक इरशाद शाह ने बतया कि भारतीय अधिकारियों द्वारा मछुआरों की राष्ट्रीयता की पुष्टि करने के बाद सद्भावना के तौर पर उन्हें रिहा कर दिया गया. रिहा किये गए सभी मछुआरों में से अधिकतर मछुआरों गुजरात के रहने वाले हैं.

मछुआरों को एधी फाउंडेशन को सौंपा गया
सभी रिहा होने वाले मछुआरों को पाकिस्तान सरकार ने एधी फाउंडेशन को सौंप दिया है, जो उन सभी मछुआरों का खाने-पीने, रहने और ट्रैन का खर्चा देखेगी। सभी मछुआरों अल्लामा इकबाल एक्सप्रेस ट्रेन से लाहौर जाएंगे और उस के बाद उन्हें एधी फाउंडेशन बाघा बॉर्डर तक लेकर भारतीय अधिकारीयों को सौंपेगा। लांधी जेल के अधीक्षक इरशाद शाह ने बतया कि अभी भी पाकिस्तानी जेल में करीब 500 से अधिक भारतीय मछुआरे कैद हैं.

यह भी पढ़ें:

By Election Result 2021: हिमाचल समेत कई जगहों पर उप चुनाव के नतीजे चौंकाने वाले, जानिए किसने कहां मारी बाजी

New Sports Policy For Under-17 Players in Haryana हरियाणा सरकार ने अंडर-17 कैटेगरी से हटाई दसवीं कक्षा तक की शर्त

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर