जम्मू कश्मीर. Jammu Kashmir केंद्रीय मंत्री जीतेन्द्र सिंह ने रविवार को ‘मीरपुर बालिदान दिवस’ कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाले जम्मू-कश्मीर (पीओजेके) को फिर से हासिल करना अगला एजेंडा है. उन्होंने बताया की जिस सरकार के पास अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को खत्म करने की क्षमता और इच्छाशक्ति है, वह ही पाकिस्तान के अवैध कब्जे से पीओके को फिर से हासिल करने की क्षमता रखता है.

‘जैसे आर्टिकल-370 हटा वैसे ये भी होगा’

उन्होंने कहा कि हमेशा ऐसा माना जाता था कि आर्टिकल 370 को कभी भी नहीं हटाया जा सकता, लेकिन पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में इसे संभव किया गया और उसी तरह से पीओजेके को फिर से पाने का संकल्प भी पूरा होगा। उन्होंने साफ किया कि यह सिर्फ एक राजनीतिक और राष्ट्रीय एजेंडा नहीं है, बल्कि मानवाधिकारों की वजह से यह एक जिम्मेदारी भी है। क्योंकि, ‘पीओजेके में हमारे भाई अमानवीय हालातों में रह रहे हैं’ और यहां तक कि उन्हें स्वास्थ्य और शिक्षा जैसी मूलभूत सुविधाओं से भी बेरहमी से वंचित किया गया है। प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्यमंत्री सिंह ने कहा, “पीओके को फिर से हासिल करना न केवल एक राजनीतिक और राष्ट्रीय एजेंडा है, बल्कि मानवाधिकारों के सम्मान की जिम्मेदारी भी है,वहां रहने वाले सभी लोग जरुरी सुविधाओं से वंचित है और उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़ता है.

यह भी पढ़ें:

Railway News: स्पेशल ट्रेन और स्पेशल किराया खत्म, अब पहले की तरह होगा ट्रेनों का परिचालन

VHP International President Alok Kumar: हिंदुत्व के प्रति दुर्भावना गलत, बोले विहिप के अंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष आलोक कुमार

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर