Chitrakoot Gang Rape Case. अखिलेश सरकार में मंत्री रहे गायत्री प्रजापति को गैंगरेप में उम्रकैद यूपी के पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति को कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई है. MP-MLA कोर्ट ने कल अखिलेश सरकार में मंत्री रहे गायत्री प्रसाद प्रजापति को गैंग रपे मामलें में दोषी करार दिया है. गायत्री के साथ दो अन्य आरोपी आशीष शुक्ला (Ashish Shukla) और अशोक तिवारी (Ashok Tiwari) भी दोषी पाए गए हैं, जबकि कोर्ट ने इस मामलें में 4 लोगों को बरी कर दिया था

आपको बता दें चित्रकूट की एक महिला ने साल 2016 में मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति और उनके साथियों के खिलाफ गैन रपे का आरोप लगाया था. पीड़िता का बताया था कि खनन मंत्री रहे गायत्री प्रसाद प्रजापति ने उन्हें खनन के पट्टे दिलाने का झांसा देकर गौतमपल्ली स्थित आवास बुलाकर कई बार रेप किया. पीड़िता ने बताय साल 2014 से जुलाई 2016 तक उसका शोषण किया जाता रहा, बड़ी मुश्किल से पीड़िता ने साल 2016 में मंत्री के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज की थी.

पीड़िता की बेटी का भी यौन शोषण
गायत्री प्रसाद प्रजापति और उनके साथियों ने पीड़िता की नाबालिग बेटी के साथ भी गैंगरेप किया था. अखिलेश सरकार में उस वक़्त मंत्री होने की वजह से पुलिस ने पीड़िता की FIR पर कोई एक्शन नहीं लिया, और केस को मेहज फाइल में समेट कर बंद कर दिया। पीड़िता ने इसके बाद सुप्रीम कोर्ट के दरवाजे खटखटाए जिसके बाद सभी दोषियों के खिलाफ गौतमपल्ली थाना में फरवरी 2017 को गैंगरेप, पॉक्सो एक्ट समेत अन्य धाराओं में एफआईआर दर्ज की गई थी. 15 मार्च 2017 को पुलिस ने मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति, अशोक तिवारी और आशीष शुक्ला को गिरफ्तार किया था. इस पर कोर्ट ने सुनवाई करते हुए कल यूपी के पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति और उनके साथियों को दोषी करार दिया है.

यह भी पढ़ें:

Ahmadnagar : अहमदनगर के सिविल हॉस्पिटल के आईसीयू में भीषण आग, 10 मरीजों की मौत

video viral, Woman leader fired on Diwali night video viral : दिवाली की रात महिला नेता ने कर दी फायरिंग, वीडियो हो गया वायरल

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर