काठमांडू: चीन के बाद नेपाल ने भारत की चिंता बढ़ा दी है. सीमा विवाद के चलते गुरूवार देर शाम नेपाल सरकार ने अपने देश में भारतीय न्यूज टीवी चैनलों के प्रसारण पर रोक लगा दी है. बताया जा रहा है कि नेपाल ने इस फैसले को लेकर कोई आधिकारिक बयान तो जारी नहीं किया है लेकिन नेपाल के केबल टीवी ऑपरेटर भारतीय न्यूज चैनलों का प्रसारण नहीं कर रहे हैं. हालांकि खबर है कि नेपाल में बैन किए गए चैनलों में डीडी न्यूज को शामिल नहीं किया गया है.

चीन की ये हरकत देखकर लग रहा है कि वो चीन के नक्शे कदम पर चल रहा है. नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली का ये कदम उसी दिशा में बढ़ता नजर आ रहा है क्योंकि लद्दाख में जारी तनाव के बीच चीन ने भी भारतीय न्यूज चैनलों के प्रसारण पर प्रतिबंध लगा दिया था. बताया जाता है कि चीन को डर था कि वहां के लोगों को भारतीय समाचार चैनलों के माध्यम से सीमा के हालात की सही जानकारी मिल सकती है.

भारत और नेपाल के रिश्तों के जानकार बताते हैं कि नेपाल के पीएम ओली सत्ता में राष्ट्रवाद के सहारे बने रहना चाहते हैं. इसलिए वे कभी नक्शा विवाद तो कभी नागरिकता कानून के जरिए भारत के खिलाफ कड़ा कदम उठा रहे हैं. ओली ने हाल में ही अपनी सरकार गिराने को लेकर भारत पर साजिश करने का आरोप लगाया था, हालांकि नेपाल की जनता भी उनकी इस साजिश को समझ रही है क्योंकि चीनी राजदूत के साथ उनकी नजदीकियों को लेकर नेपाल में ही विरोध शुरू हो गया है.

Nepal Threatens India: नेपाल ने दी भारत को धमकी, बिहार सीमा पर तटबंध हटा लो वर्ना तोड़ देंगे

PM Narendra Modi Interacts Non Governmental Organisations: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले- वाराणसी के लोगों से बात करना भोलेनाथ के दर्शन करने जैसा

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर