Monday, June 27, 2022

नेहरू ने हमे पाकिस्तान के साथ रहने को छोड़ा- राहुल के दावे पर बोले असम CM हिमन्त बिश्व शर्मा

आइडियाज़ फॉर इंडिया सम्मेलन:

नई दिल्ली। लंदन के कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के ‘आइडियाज़ फॉर इंडिया’ सम्मेलन में कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के असम को लेकर दिए बयान पर असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने तीखा हमला बोला है। हिमंत ने कहा कि श्रीमान गांधी जवाहर लाल नेहरू ने असम को पाकिस्तान के साथ रहने के लिए छोड़ दिया था।

राहुल गांधी पर बरसे मुख्यमंत्री हिंमत

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने राहुल के बयान पर जमकर हमला बोला। असम मुख्यमंत्री ने राहुल गांधी के उस दावे को खारिज किया। जिसमें पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा था कि उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, असम और तमिलनाडु समेत भारत के कई राज्यों में इस वक्त अशांति का माहौल है।

नेहरू ने असम को पाकिस्तान के साथ रहने को छोड़ा

राहुल गांधी के भाषण जिक्र करते हुए हिमंत बिस्वा सरमा ने कहा कि असम को भारत के साथ रखने के लिए गांधीजी के समर्थन से गोपीनाथ बोरदोलोई को बहुत संघर्ष करना पड़ा। उन्होंने आगे कहा कि नेहरू ने हमें कैबिनेट मिशन योजना के अनुसार पाकिस्तान के साथ रहने के लिए छोड़ दिया था। इसीलिए अपने तथ्यों को ठीक करें श्रीमान गांधी। ये नकली बुद्धिवाद की पराकाष्ठा है।

राहुल गांधी ने दिया था ये बयान

बता दें कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने लंदन के कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के ‘आइडियाज़ फॉर इंडिया’ सम्मेलन में अपने संबोधन में कहा था कि भारत पहले से ही विकसित नहीं था। देश नीचे से ऊपर की तरह आया है। इसकी वजह है कि भारत के सभी राज्य एक साथ आए और बातचीत के जरिए शांति बनाई। लेकिन आज उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, असम और तमिलनाडु समेत भारत के कई राज्यों इस वक्त अशांति का माहौल है।

बीजेपी ने पूरे देश में छिड़का केरोसिन- राहुल गांधी

गौरतलब है कि कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष ने आगे कहा कि बीजेपी की सरकार और आरएसएस भारत को एक भूगोल की तरह देखते हैं। लेकिन मेरे और कांग्रेस के लिए देश लोगों से बनता है। राहुल ने जोर देकर कहा कि भारत में इस वक्त अच्छे हालात नहीं है। उन्होंने कहा कि बीजेपी ने पूरे देश में केरोसिन छिड़क दिया है। अब बस एक चिंगारी से पूरे देश में आग भड़क सकती है।

यह पढ़े-

क्या है लैंड फॉर जॉब स्कैम, जिसमें उलझ गए लालू, इन मामलों में पहले ही लटक रही है तलवार

SHARE

Latest news

Related news