नई दिल्ली: नीट और जेईई के परीक्षा को टालने की लगातार उठ रही मांग के बीच गैर बीजेपी शासित राज्यों के छह मंत्रियों ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. इस याचिका में सुप्रीम कोर्ट से केंद्र को इस साल नीट, जेईई परीक्षाएं कराने की अनुमति देने वाले उसके आदेश पर पुनर्विचार का अनुरोध किया. ओडिशा सरकार ने भी सरकार से नीट और जेईई की परीक्षा टालने का अनुरोध किया है. मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने नरेंद्र मोदी से फोन पर बात की है और इन परीक्षाओं को स्थगित करने का अनुरोध किया है.

परीक्षा की टाइमिंग पर पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने भी सवाल उठाते हुए कहा कि जब कोरोना अपने चरम पर है ऐसे में परीक्षा कैसे कराई जा सकती है? महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सवाल किया कि आज कोरोना वायरस का संक्रमण फैल रहा है और संकट बढ़ गया है तो परीक्षाएं कैसे ली जा सकती हैं? राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने भी परीक्षाएं स्थगित करने की पैरवी करते हुए केंद्र सरकार के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का रूख करने का फैसला किया है.

आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी नीट और जेईई की परीक्षाएं स्थगित करने की मांग करते हुए केन्द्र सरकार से छात्रों के चयन के लिए वैकल्पिक पद्धति पर काम करने का अनुरोध किया है. मनीष सिसोदिया ने कहा कि ‘तमाम एहतियाती कदम उठाने के बावजूद बहुत सारे शीर्ष नेता संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं. ऐसे में हम 28 लाख छात्रों को परीक्षा केन्द्र भेजने का जोखिम कैसे उठा सकते हैं? और यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि वे इसकी चपेट में नहीं आएंगे?’ इस बीच नीट और जेईई प्रशासन ने एग्जाम को लेकर तैयारियां तेज कर दी हैं. एनटीए के चैयरमैन विनीत जोशी के मुताबिक बुधवार शाम तक जेईई-नीट के करीब 23 लाख में 14 लाख अभ्यर्थियों ने अपना रोलनंबर डाउनलोड़ कर लिया है.

IIT JEE Advanced 2020 Date: आईआईटी जेईई एडवांस्ड एग्जाम 2020 की नई तारीख घोषित, @jeeadv.ac.in

NEET JEE 2020 Exam: NTA ने बताया कैसी है नीट-जेईई 2020 एग्जाम की तैयारी, एक कमरे में बैठेंगे 12 छात्र

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर