नई दिल्ली: राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा यानी NEET और संयुक्त प्रवेश परीक्षा यानी JEE को टलवाने के लिए अब कांग्रेस समेत कई राजनीतिक दल साथ आ गए हैं और इस मुद्दे को लेकर सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलने को पूरी तरह तैयार हैं. एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने जेईई-नीट परीक्षाओं को टालने के लिए अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया है और अब धीरे-धीरे बाकी राजनीतिक दल भी इस मुद्दे को लेकर लामबंद हो रहे हैं. माना जा रहा है कि देशभर के कई लाख छात्र इस मुहिम से जुड़ने वाले हैं. गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट से अनुमति मिलने के बाद नीट और जेईई की परीक्षा की तारीखों का एलान हो चुका है साथ ही परीक्षा से संबंधित दिशानिर्देश भी जारी कर दिए गए हैं. जेईई की परीक्षा 1 से 6 सितंबर के बीच होगी जबकि नीट परीक्षा 13 सितंबर को कराई जाएगी.

NEET और JEE परीक्षा रुकवाने के लिए विपक्ष लगातार सरकार पर दबाव बना रहा है. इस मामले को लेकर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने आज विपक्षी पार्टियों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉल पर अहम बैठक बुलाई है.

इससे पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी मंगलवार को पीएम नरेंद्र मोदी से आग्रह किया था कि केंद्र को नीट और जेईई परीक्षाओं को लेकर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के खिलाफ पुनर्विचार याचिका दाखिल करनी चाहिए. बता दें कि शीर्ष अदालत ने कोरोना महामारी के दौरान NEET और JEE परीक्षा करवाने का आदेश दिया है जिसके बाद प्रशासन की तरफ से परीक्षा की तैयारियां युद्धस्तर पर की जा रही है. अभ्यार्थियों को ऑनलाइन रोल नंबर जारी कर दिए गए हैं साथ ही एग्जाम से जुड़े सभी दिशानिर्देशों को भी सार्वजनिक कर दिया गया है.

NEET 2020 Exam Admit Card: नीट 2020 एग्जाम एडमिट कार्ड इस दिन होगा जारी, NTA ने जारी की ये जानकारी, @nta.ac.in

JEE Main-NEET Exams 2020 Guideline: नीट जेईई परीक्षा के लिए गाइडलाइंस जारी, 6 फीट की दूरी, आइसोलेशन रूम में एग्जाम

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर