नई दिल्ली: कर्नाटक के बेंगलुरु में राजीव गांधी यूनिवर्सिटी ऑफ हेल्थ साइंस के सिल्वर जुबली कार्यक्रम को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों पर चिंता जाहिर की. इस दौरान उन्होंने कहा कि दूसरे विश्वयुद्ध के बाद से आज तक दुनिया ने इतने बड़े संकट का सामना नहीं किया. उन्होंने कहा कि जैसे विश्व युद्ध के बाद दुनिया बदल गई थी वैसी है कोरोना के बाद से दुनिया पूरी तरह बदल जाएगी.

इस दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहे कोरोना वॉरियर्स की जमकर तारीफ करते हुए कहा कि कोरोना भले ही अदृश्य है लेकिन कोरोना वॉरियर्स विजिबल हैं. उन्होंने कहा कि फ्रंटलाइन वर्कर्स के साथ किसी भी तरह का बुरा व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वॉरियर्स बिना वर्दी के वाले सैनिक हैं. स्वास्थ्य कर्मियों की तारीफ करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आज मेक इन इंडिया कार्यक्रम के तहत देश में पीपीई किट और N-95 मास्क बन रहे हैं. उन्होंने ये भी कहा कि देश में आरोग्य सेतु ऐप बनाई गई है और अब तक 12 करोड़ लोग डाउनलोड कर चुके हैं.

पीएम मोदी ने आयुष्मान भारत योजना की तारीफ करते हुए कहा कि ये विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना है जिसका अबतक 1 करोड़ लोग लाभ ले चुके हैं. उन्होंने ये भी कहा कि देश में 22 नए एम्स अस्पताल खुल गए हैं साथ ही पिछले साल से देश में एमबीबीएस की 30 हजार सीटें बढ़ गई है. पीएम मोदी ने कहा कि भारत ने स्वास्थ्य क्षेत्र में पिछले 6 सालों में कई बड़े और अहम फैसले लिए हैं. उन्होंने कहा कि मिशन इंद्रधनुष, आयुष्मान भारत समेत कई अहम योजनाओं ने देश की स्वास्थ्य व्यवस्था में बड़ा योगदान दिया है.

Wajid Khan Passed Away: बॉलीवुड को एक और झटका, संगीतकार वाजिद खान का कोरोना और किडनी की बीमारी से निधन

PM Modi Mann Ki Baat: मन की बात में पीएम मोदी बोले- अर्थव्यवस्था का एक बड़ा हिस्सा अब चल पड़ा है, ज्यादा सतर्क रहने की आवश्यकता