नई दिल्ली. ना खाऊंगा, ना खाने दूंगा का नारा देने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार की दूसरी पारी की शुरुआत से ही भ्रष्ट बाबुओं और नौकरशाहों के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक शुरू हो गया है. आयकर विभाग के 12 इनकम टैक्स कमिश्नर और बड़े अधिकारियों को समय से पहले रिटायर कराने के बाद अब कस्टम और एक्साइज विभाग के 15 टॉप ऑफिसर्स को समय से पहले कम्पलसरी रिटायरमेंट के जरिए सर्विस से हटा दिया गया है. वित्त मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक भ्रष्टाचार और अकूत संपत्ति जुटाने के आरोपी जिन 15 सीबीआईसी अधिकारियों को सरकार के सर्विस रूल नियम नंबर 56 जे के तहत जबरन रिटायर कराया गया है उसमें एक प्रिंसिपल कमिश्नर, चार कमिश्नर, तीन एडिशनल कमिश्नर, दो डिप्टी कमिश्नर, एक ज्वाइंट कमिश्नर और चार असिस्टैंट कमिश्नर शामिल हैं.

समय से पहले रिटायरमेंट के रास्ते नौकरी से विदा किए गए बाबुओं में सबसे बड़े अधिकारी डॉ अनूप श्रीवास्तव हैं जो इस समय प्रिंसिपल एडीजी, दिल्ली थे. इन पर आयात शुल्क में चोरी के लिए घूस खाने के केस में सीबीआई ने केस दर्ज किया था और गिरफ्तार भी किया था. जमानत पर आने के बाद निलंबन खत्म हो गया था और इस केस में चार्जशीट दाखिल की गई थी. इन पर अकूत संपत्ति जुटाने और पैसे के लिए लोगों को परेशान करने, गिरफ्तार करने जैसे संगीन आरोप हैं. जो चार कमिश्नर रिटायर किए गए हैं उनमें अतुल दीक्षित, संसार चंद, जी श्री हर्षा, विनय ब्रिज सिंह शामिल हैं. इन सब पर घूस लेने, आय से अधिक संपत्ति जुटाने और सीमा शुल्क लगाने में पैसा लेकर हेरा-फेरी करने जैसे आरोप हैं.

नरेंद्र मोदी सरकार के द्वारा समय से पहले रिटायर गए 15 कस्टम एक्साइज अधिकारियों की सूची List of CBIC Custom Excise Officers Compulsarily Retired by Narendra Modi Government

1. अनूप श्रीवास्तव, प्रिंसिपल कमिश्नर
2. अतुल दीक्षित, कमिश्नर
3. संसार चंद, कमिश्नर
4. जी श्री हर्षा, कमिश्नर
5. विनय ब्रिज सिंह, कमिश्नर
6. अशोक आर महिदा, एडिशनल कमिश्नर
7. वीरेंद्र कुमार अग्रवाल, एडिशनल कमिश्नर
8. राजू शेखर, एडिशनल कमिश्नर
9. नलिन कुमार, ज्वाइंट कमिश्नर
10. अमरेश जैन, डिप्टी कमिश्नर
11. अशोक कुमार असवाल, डिप्टी कमिश्नर
12. एसएस पबाना, असिस्टैंट कमिश्नर
13. एसएस बिष्ट, असिस्टैंट कमिश्नर
14. विनोद कुमार सांगा, असिस्टैंट कमिश्नर
15. मोहम्मद अल्ताफ, असिस्टैंट कमिश्नर

कस्टम से पहले इनकम टैक्स के 12 टॉप कमिश्नर को रिटायर कराया था मोदी सरकार ने

कस्टम विभाग के भ्रष्ट अधिकारियों से पहले पिछले सप्ताह ही नरेंद्र मोदी सरकार ने आयकर विभाग के 12 बड़े अधिकारियों को समय से पहले जबरन रिटायर करा दिया था. जिन आयकर अधिकारियों को सर्विस से विदा किया गया था उनमें ज्वाइंट कमिश्नर अशोक अग्रवाल, कमिश्नर एसके श्रीवास्तव, होमी राजवंश और बीबी राजेंद्र प्रसाद जैसे सीनियर आईटी अधिकारी शामिल थे. मोदी सरकार की दूसरी पारी की शुरुआत में ही इनकम टैक्स और कस्टम से बड़े-बड़े अधिकारियों का विकेट गिरने के बाद उन नौकरशाहों में खौफ पसरा हुआ है जिनके काले कारनामों, आय से अधिक संपत्ति और भ्रष्टाचार की फाइलें सरकार में किसी ना किसी लेवल पर अब तक पेंडिंग है.

PM Narendra Modi BJP Lok Sabha Election Victory Speech: NDA की शानदार जीत के बाद बोले पीएम नरेंद्र मोदी-देश ने फकीर की झोली भर दी, सबको साथ लेकर चलूंगा

Narendra Modi Rajiv Gandhi Congress Challenge: नरेंद्र मोदी का राहुल और प्रियंका को चैलेंज- राजीव गांधी के सम्मान पर पंजाब, दिल्ली, भोपाल में कांग्रेस लड़ ले चुनाव