मसूरी. उत्तराखंड के मसूरी में एक नामी बोर्डिंग स्कूल में चार छात्राओं से रेप का हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. जहां कथित तौर पर सीनियर्स पर रेप का आरोप लगाया है. टाइम्स ग्रुप की खबर के अनुसार, बोर्डिंग स्कूल में पढ़ने वाली चार छात्राओं का आरोप है कि उनके साथ उनके सीनियर्स ने रैंगिंग के नाम पर रेप किया. इस मामले ने तूल तब पकड़ा जब राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने इस मामले में पुलिस अधिकारियों और शिक्षा विभाग को पत्र लिखकर जांच के आदेश दिए.

मीडिया के अनुसार राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग ने इस मामले ने तुरंत जांच के आदेश दिए और कहा कि 15 दिनों के भीतर उन्हें रिपोर्ट सौंपे ताकि मामले की सच्चाई के बारे में पता लगाया जा सके. मिली जानकारी के मुताबिक, इन चार छात्राओं ने इसी साल बोर्डिंग स्कूल में एडमिशन लिया था. उन्होंने सीनियर्स पर आरोप लगाया है कि उन्होंने रैगिंग के बहाने उनका रेप किया और वह स्कूल परिसर से किसी तरह भाग निकलीं. जिसके बाद वह अपने घर पहुंची और परिवारवालों को इस बारे में बताया.

परिवारवालों ने इस घटना को सुनकर हैरान रह गए और फौरन पुलिस से इस बारे में शिकायत की. छात्रा ने इस घटना के बारे में राज्य बाल अधिकार अधिकार संरक्षण आयोग से संपर्क किया और मदद की गुहार लगाई. उन्होंने आयोग को बताया कि छात्राएं मानसिक अवसाद से गुजर रही हैं और उनमें से एक छात्रा ने तो खुदकुशी करने की भी कोशिश की.

परिवारवालों ने इन सभी सबूतों को पुलिस के हवाले किया. जिसमें एक सुसाइड नोट और रिकॉर्डिंग शामिल है. (एक छात्रा ने सुसाइड की कोशिश की थी) जब मीडिया ने इस संदर्भ में स्कूल की प्रिंसिपल से फोन पर बात की गई तो उन्होंने यात्रा करने का हवाला देते हुए कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया. वहीं स्कूल प्रशासन से जुड़े अन्य लोगों ने भी मामले में चुप्पी साध रखी है.

5 साल तक 7 लोगों से गैंगरेप का शिकार होती रही नाबालिग, शादी के बाद पति ने इंसाफ की खातिर उठाई आवाज

गोहत्या के शक में भीड़ ने मुस्लिम युवक को पीट-पीट कर मार डाला, दूसरे की हालत गंभीर

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App