मुंबई. क्रूज़ ड्रग्स मामले में अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान ( Aryan khan case ) को गिरफ्तार किया गया है, जिसके बाद से उनकी मुश्किलें बढ़ती ही जा रही हैं. इस मामले में अब शिवसेना आर्यन के समर्थन में आई है. शिवसेना नेता किशोर तिवारी ने चीफ जस्टिस एन. वी. रमना से इस मामले का स्वतः संज्ञान लेते हुए निष्पक्ष जांच की मांग की है.

शिवसेना ने आरोपियों के मौलिक अधिकार का दिया हवाला

शिवसेना के आर्यन के बचाव में एक याचिका दायर की है. इसमें उन्होंने नॉरकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की भूमिका पर भी सवाल उठाए हैं. शिवसेना नेता किशोर तिवारी ने चीफ जस्टिस एन. वी. रमना से इस मामले का स्वतः संज्ञान लेते हुए निष्पक्ष जांच की मांग की है. इस याचिका में आर्यन खान के मौलिक अधिकारों की रक्षा की मांग की गई है. शिवसेना नेता ने अपनी याचिका में आगे लिखा है कि इस ड्रग्स मामले में नॉर्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ( NCB ) की भूमिका की भी जांच होनी चाहिए. याचिका में इस मामले की न्यायिक जांच कराने की मांग की गई है.

20 अक्टूबर को होगा आर्यन की जमानत याचिका पर फैसला

फिलहाल आर्यन आर्थर रोड जेल में है, यहां से उन्हें निकालने के लिए उनके वकील ने सेशन कोर्ट में दो बार याचिका दायर की, लेकिन इस पर फैसला न हो सका. अब इस मामले का फैसला 20 अक्टूबर को होगा, इस दिन यह तय होगा कि इस मामले में आर्यन को जेल मिलती है या बेल.

 

यह भी पढ़ें :

Heavy Rain in Delhi NCR : दिल्ली में 24 घंटों में रिकॉर्ड बारिश, आज और अधिक बारिश की उम्मीद

Happy Birthday Sunny Deol बॉबी देओल ने खास तस्वीर शेयर कर किया बर्थडे विश

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर