मुंबई. महाराष्ट्र के मुंबई में बारिश काफी समय से लोगों को परेशानी में डाल रही है. मुंबई में जुलाई की शुरुआत से ही बारिश हो रही है. इस कारण पूरा शहर पानी में डूबा सा है. शहर भर में पानी इस तरह भरा हुआ है कि लोगों को रास्तों पर निकलने में भारी समस्या का सामना करना पड़ रहा है. हालांकि, मुंबई के कुछ इलाकों में पिछले एक या दो दिन से ही बारिश शुरू हुई है. फिर भी इन इलाकों में बारिश ने देर रात एक विशाल रूप ले लिया और आस-पास के क्षेत्रों में जल भराव बहुत ज्यादा हो गया है. कई इलाकों में 50 मिमी से ज्यादा बारिश दर्ज की गई है. शहर के कई हिस्सों में अब भी बारिश जारी है. यहां तक कि बारिश के कारण मुंबई हवाई अड्डे पर दृश्यता 300 मीटर तक गिर गई है. इस कारण कई फ्लाइट में देरी हो रही है.

स्काईमेट वेदर में मौसम के अनुसार, मुंबई में आज भी बारिश जारी रहने और बारिश के तेज होने की संभावना है. अगले पांच से छह घंटों में मुंबई शहर के लिए बारिश गंभीर रूप धारण कर सकती है. ऑफिस और स्कूल जाने वालों को ध्यान रखना होगा क्योंकि बारिश के कारण कई हिस्सों में जल जमाव हो गया है जिससे इलाकों में भारी ट्रैफिक जाम लगा है. कई इलाकों में बारिश के कारण देखने की क्षमता कम हो गई है. मौसम विभाग ने अलगे कुछ घंटों के लिए अलर्ट जारी किया है.

यहां पढ़ें Mumbai Rains Live Updates:

दोपहर 5.50 बजे- मुंबई में हो रही तेज बारिश से कई इलाकों में पानी इतना भर गया है कि बाढ़ जैसे हालात पैदा हो गए हैं. बारिश की वजह से शहर की कई सड़कों पर जाम की समस्या भी है. हालांकि मुंबई मुंसिपल कॉरपोरेशन की तरफ से शहर में भरे पानी को निकालने के लिए कई प्रयास किए जा रहे हैं.

दोपहर 3.01 बजे- इस बीच, सांताक्रूज मौसम केंद्र ने पिछले घंटों में न्यूनतम बारिश दर्ज की. जबकि कोलाबा (दक्षिण मुंबई) में बुधवार को सुबह 8.30 से 5.30 बजे के बीच 7.4 मिमी बारिश दर्ज की गई. नमी का स्तर सबसे ज्यादा था, क्योंकि यह कोलाबा में 98 प्रतिशत और सांताक्रूज में 72 प्रतिशत था. आईएमडी के एक अधिकारी ने बताया कि अधिकांश बारिश कोलाबा क्षेत्र, अंधेरी से बोरिवली, पूर्वी उपनगर, ठाणे, नवी मुंबई और एमएमआर में हुई.

दोपहर 2.46 बजे- वर्तमान हवा की दिशा कमजोर है, लेकिन दक्षिण गुजरात और आसपास के क्षेत्रों में स्थित एक चक्रवाती परिसंचरण (मौसम प्रणाली) के आधार पर 48 घंटे में मुंबई और आसपास के क्षेत्रों में बारिश की तीव्रता बढ़ने की संभावना है. ऐसी स्थिति में, इसे मानसून की शुरुआत घोषित किया जा चुका है.

दोपहर 2.31 बजे- अगले 48 घंटों यानी 26 जून तक दक्षिण-पश्चिम मॉनसून की शुरुआत मुंबई के ऊपर रहने की संभावना है बशर्ते कि बारिश-असर मानदंड पूरे हों. मानदंड में दो दिन लगातार 2.5 मिमी प्रति दिन की बारिश और हवा की दिशा का समर्थन करने के लिए लगातार बारिश शामिल है.

दोपहर 2.16 बजे- पिछले कुछ घंटों में मुंबई में अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. अनियमित वर्षा के बावजूद, शहर और उत्तर कोंकण के अन्य क्षेत्रों में मानसून के आगमन में दो सप्ताह की देरी हुई है. यह 2009 के बाद से बारिश के लिए शहर का सबसे लंबा इंतजार है.

दोपहर 2.01 बजे- मुंबई और उसके उपनगर पिछले 30 घंटों से भारी बारिश का सामना कर रहे हैं. संभावना जताई जा रही है कि दिन बढ़ने के साथ बारिश तेज होगी. इसके परिणामस्वरूप कई इलाकों जैसे हिंदमाता, दादर, और कुर्ला के कुछ हिस्सों में जल जमाव हो गया है. बारिश के कारण कुछ इलाकों में ट्रैफिक डायवर्जन भी किया गया.

दोपहर 1.46 बजे- मुंबई में लगातार हो रही बारिश लोगों के लिए परेशानी खड़ी कर दी है. बारिश के कारण मुंबई में ट्रैफिक की समस्या बढ़ गई हैं और सड़कें और रेलवे ट्रैक पर पानी में डूब गए हैं. इससे एक सड़क हादसा भी हुआ, जिसमें 3 गाड़ियां आपस में भिड़ गईं और 8 लोग घयाल हो गए.

दोपहर 1.31 बजे- सायन, हिंदमाता जंक्शन जैसे निचले इलाकों और चेंबूर और मलाड के कई इलाकों में अधिकांश दिन जल जमाव रहा. सिविक अधिकारियों ने कहा कि वे पंपों का उपयोग जहां भी आवश्यक हो वहां कर रहे हैं. लेकिन कम समय में इलाकों में भारी बारिश और हाई टाइड के कारण तेजी से बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों में पानी भर रहा है.

दोपहर 1.16 बजे- बुधवार से हो रही बारिश के कारण दो लैंडस्लाइड, पेड़ गिरने, साथ ही कई घर ढहने के मामले सामने आए हैं. भारी बारिश और बिजली गिरने के कारण कुछ जगह छोटी आग भी लगी हैं. किसी के हताहत होने की सूचना नहीं थी.

दोपहर 1.01 बजे- सब्जियों की खुदरा कीमत बारिश के कारण बढ़ गई. मुंबई के घाटकोपर, मुलुंड, अंधेरी और खार जैसे इलाकों में 80 रुपये प्रति किलोग्राम के रेट पर टमाटर की बिक्री की जा रही है. फूलगोभी, क्लस्टर बीन्स, फ्रेंच बीन्स और हरी मटर जैसी अन्य चीजें औसत रूप से 80-120 रुपये से ऊपर पहुंच गईं है.

दोपहर 12.46 बजे- छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर कई उड़ानें पहले से ही देरी से चल रही हैं या रद्द कर दी गई हैं. अगले 48 घंटों में बारिश जारी रहने और यहां तक कि बढ़ने की उम्मीद है. इसके साथ, इंडिगो और विस्तारा जैसी एयरलाइंस ने अपने यात्रियों को मुंबई हवाई अड्डे की फ्लाइट के बारे में चेतावनी दी है. उन्होंने यात्रियों से घर छोड़ने से पहले उड़ान की स्थिति की जांच करने के लिए कड़ाई से कहा है.

दोपहर 12.31 बजे- जैसे ही मुंबई में बारिश का एक तीव्र दौर शुरू हुआ, शहर भर से जलभराव के कारण ट्रैफिक जाम लगने लगे. अगले 48 घंटों में मौसम विभाग के भारी बारिश और हाई टाइड की भविष्यवाणी के साथ स्थिति ऐसी ही रहने की संभावना है.

दोपहर 12.16 बजे- बारिश के कारण मुंबई कुर्ला के कुछ हिस्सों के साथ दादर और हिंदमाता में जलभराव हो गया है. भारी जाम के कारण कुछ स्थानों पर यातायात को डायवर्ट किया गया है. मौसम विभाग के अनुसार भारत के उत्तरी भागों में बुधवार से ही भारी बारिश और बारिश बढ़ने की संभावना है.

दोपहर 12.01 बजे- मौसम विभाग के कोलाबा वेधशाला द्वारा 8.30 बजे, मंगलवार से शुरू होने वाली 24 घंटों की बारिश में 173.6 मिमी और सांताक्रूज में 84.2 मिमी बारिश दर्ज की गई. उपनगरीय इलाके, ठाणे और नवी मुंबई में बुधवार को बारिश तेज रही, लेकिन बीच में रुकने से पानी का स्तर गिरने में मदद मिली.

सुबह 11.46 बजे- भारी बारिश के कारण मुंबई की वायु गुणवत्ता सूचकांक बुधवार को 15 तक सुधर गई. ये इस वर्ष की सर्वश्रेष्ठ रही और जून 2015 में निगरानी शुरू होने के बाद से ये दूसरे सबसे अच्छे आंकड़े रहे. हालांकि, मुंबई को आपूर्ति करने वाली सात झीलों के जलग्रहण क्षेत्रों में बारिश फिर भी कम हुई.

सुबह 11.31 बजे- बुधवार सुबह से मुंबई में चल रही भारी बारिश के कारण आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है. शहर और उपनगरों के कई हिस्सों से जलभराव और ट्रैफिक जाम की सूचना मिली थी. लोकल ट्रेनें निर्धारित समय से 15- 20 मिनट पीछे चल रही थीं. मुंबई हवाई अड्डे से आने और जाने वाली उड़ानों की दृश्यता 300 मीटर तक गिर गईं.

सुबह 11.16 बजे- मंगलवार को सुबह 11.30 बजे से बुधवार शाम 5.30 बजे तक मुंबई के कोलाबा में 170 मिमी से अधिक बारिश दर्ज की गई थी. इस मौसम में 12 घंटे की अवधि में सबसे अधिक बारिश दर्ज की गई है. जुलाई की शुरुआत के बाद ये दूसरी बार है कि मुंबई में रातभर बारिश पड़ी हो.

सुबह 11.01 बजे- सुबह मौसम विभाग ने शहर में भारी बारिश की संभावना जाहिर की है. मौसम भविष्यवक्ता की भविष्यवाणी के अनुसार गुरुवार को उपनगर में भारी बारिश रहेगी. मौसम विभाग की रिपोर्ट के मुताबिक 46.76 प्रतिशत बादल शहर के ऊपर हैं.

सुबह 10.46 बजे- पलघार में आए भूकंप की वजह से धनउ इलाके में एक घर की दीवार गिर गई, जिसमें 55 वर्षीय महिला की मौत हो गई है.

गुरुवार सुबह 10.31 बजे- भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक अगले चार घंटों में महाराष्ट्र के मुंबई, ठाणे, रायगढ़, पलघार, रत्नागिरी और नासिक में भारी बारिश हो सकती  है.

गुरुवार सुबह 10.16 बजे- महाराष्ट्र के पलघार में देर रात 1.15 बजे भूकंप आया. भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 3.6 मापी गई.

बुधवार शाम 4.20 बजे- मुंबई के मौसम विभाग ने अगले 4 घंटों के भीतर ठाणे जिले में तेज बारिश का अलर्ट जारी किया है.

दोपहर 3.20 बजे- मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि मुंबई के पास एक चक्रवाती तूफान विकसित हो रहा है, जो शहर में भारी बारिश लाएगा. शहर में पिछले 2-3 दिनों में बेहद कम या ना के बराबर बारिश हुई थी. लेकिन अब स्थिति बदल गई है. आने वाले दिनों में और अधिक बारिश होगी.

दोपहर 3.05 बजे- भारत सरकार की राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण, एनडीएमए ने ट्वीट करके लोगों को सतर्क रहने के लिए कहा है. उन्होंने अपने ट्वीट में बताया है कि देश के जिन इलाकों में बाढ़ आ रही है उन इलाकों में क्या करने से बचें. ट्वीट में लिखा है कि अपने हर कदम को ध्यान से रखें. सीवरेज लाइनों, गटर, नालियों, पुलियों से दूर रहें.

दोपहर 2.50 बजे- बुधवार को सुबह 8 बजे से दोपहर 1 बजे तक आईलैंड सिटी में 6.64 मिमी, पूर्वी उपनगर में 19.61 मिमी, पश्चिमी उपनगर में 18.71 मिमी बारिश दर्ज की गई है. मुंबई में 2 बजे से भारी बारिश शुरू हो गई है. बारिश के कारण कई इलाकों में पानी भर गया है और बाढ़ भी आ गई है.

दोपहर 2.35 बजे- मुंबई के कई इलाकों जैसे नवी मुंबई, कल्याण और दहिसर में भारी बारिश हो रही है. सायन-पनवेल राजमार्ग पर जलभराव हो गया है. मालाड एसवी रोड पर बाढ़ आ गई है. सुरक्षा कारणों से मलाड सबवे बंद कर दिया गया है. मौसम विभाग ने 48 घंटे का अलर्ट जारी किया है.

दोपहर 2.20 बजे- मौसम विभाग ने बताया कि सैटेलाइन फोटो के अनुसार मुंबई के पास अरब सागर के ऊपर एक बड़े पैमाने पर बादल दिखाई दे रहे हैं. शहर में दोपहर 2 बजे के आसपास भारी बारिश होने की संभावना जाहिर की गई थी. इसी के बाद शहर के कई इलाकों में बारिश शुरू हो गई है.

दोपहर 2.05 बजे- आईएमडी के उप महानिदेशक (पश्चिमी क्षेत्र) केएस होसलीकर ने कहा कि, पूरी रात मुंबई में तेज बारिश हुई. अगले कुछ घंटों तक बारिश जारी रहने की संभावना है. पिछले 24 घंटों में मुंबई में 170 एमएम से ज्यादा की बारिश दर्ज की गई है.

दोपहर 1.50 बजे- बीईएसटी (बेस्ट) बसों के रूट जल-जमाव के कारण बदल दिए गए हैं. बीएमसी ने कई रास्तों पर ट्रेफिक को डायवर्ट कर दिया है. ट्रेनें भी ट्रैक पर पानी भरने के कारण देरी से चल रही हैं. कुछ फ्लाइट के समय में बदलाव भी किए गए हैं.

दोपहर 1.35 बजे- भारी बारिश के कारण एक ट्रक चालक ने वाहन पर नियंत्रण खो दिया. मुंबई के तुर्भे सर्कल के पास सायन-पनवेल राजमार्ग पर ट्रक पलट गया. ट्रक मेन सड़क पर पलटने के कारण लंबा जाम लग गया है. ट्रेफिक पुलिस जाम को खुलवाने और ट्रक को हटाने की कोशिश में लगी है.

दोपहर 1.20 बजे- जून के महीने में जानकारी आई थी कि मुंबई में पीने के पानी की कमी हो रही है. उस समय कहा गया था कि पीना का पानी केवल 20 दिनों की आपूर्ती कर पाएगा. हालांकि अब अधिकारियों ने जानकारी दी है कि भारी बारिश के कारण अब मुंबई के 6 जलाशयों में पानी भर गया है. लोगों के लिए इसे खुशखबरी बताते हुए अधिकारियों ने कहा कि जलाशयों में जरूरत के मुताबिक काफी पानी भर गया है.

दोपहर 1.05 बजे- मुंबई में भारी बारिश से कुछ लोग खुश हैं क्योंकि लोगों को गर्मी से राहत की सांस मिली है तो कुछ लोगों को परेशानी का सामना भी करना पड़ रहा है. भारी बारिश के कारण सड़कें पानी से भर गई हैं. बीएमसी ने रास्ते डायवर्ट कर दिए हैं. यहां तक की बारिश के कारण सड़कों पर दृश्यता कम हो गई है जिस कारण हादसे बढ़ रहे हैं.

दोपहर 12.50 बजे- मौसम विभाग के अनुसार शाम 4.24 बजे हाई टाइड की संभावना है. 2005 में भारी बारिश के कारण मुंबई में बाढ़ आ गई थी. 2005 में 26 जुलाई को बाढ़ आई थी. आज यानि 24 जुलाई को हाई टाइड के अलर्ट के बाद संभावना जताई जा रही है कि मुंबई में बाढ़ जैसे हालात हो सकते हैं.

दोपहर 12.35 बजे- मुंबई क्षेत्रीय मौसम विज्ञान केंद्र ने शहर और उपनगरों में 48 घंटे की चेतावनी जारी कर दी है. कई इलाकों में कल रात से बारिश हो रही है और आने वाले 48 घंटों के लिए बारिश हो सकती है. मुंबई के कई इलाकों में भारी बारिश के कारण जलभराव हो गया है.

दोपहर 12.20 बजे- मुंबई में भारी बारिश से कई इलाकों में पानी भर गया है. लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. मौसम विभाग ने अगले कुछ घंटों के लिए भारी बारिश और शाम में हाई टाइड का अलर्ट जारी किया है.

दोपहर 12.05 बजे- सुबह मुंबई बीएमसी ने ट्वीट करके जानकारी दी थी कि पूरी रात मुंबई में तेज बारिश हुई. उन्होंने बताया था कि सुबह 5.30 बजे तक 171 मिमी कोलाबा में और 58 मिमी सांता क्रूज में बारिश दर्ज की गई. साथ ही चेतावनी दी कि अगले कुछ घंटों तक बारिश जारी रहने की संभावना है.

सुबह 11.50 बजे- बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने ट्रैफिक एडवाइज़री जारी की थी. यहां जानें डायवर्ट किए गए मार्गों की जानकारी.

1. अलंकार टॉकीज से भेंडी बाजार की ट्रैफिक को डॉन तकी के रास्ते जेजे अस्पताल की ओर मोड़ दिया गया.
2. एसवी रोड नेशनल कॉलेज ट्रैफिक को लिंक रोड से होकर निकाला गया.
3. गांधी मार्केट ट्रैफिक को पुल और भाऊ दाजी लाड मार्ग से होकर निकाला गया.
4. सायन रोड नंबर 4 ट्रैफिक को रोड नंबर 3 से होकर निकाला गया.
5. गोरेगांव सिद्धार्थ हॉस्पिटल ट्रैफिक डायवर्ट होकर गजानन महाराज चौक.

सुबह 11.35 बजे- मौसम विभाग ने मुंबई बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग ने बताया कि आज दोपहर 4.24 बजे हाई टाइड की आशंका है. कहा गया है कि अगले कुछ घंटों में मुंबई के कई इलाकों में भारी बारिश रहेगी.

सुबह 11.20 बजे- सेंट्रल रेलवे पब्लिक रिलेशन ऑफिसर (सीआर पीआरओ) ने ट्रेन में देरी पर कहा कि, सेंट्रल रेलवे के सभी चार कॉरिडोर पर उपनगरीय ट्रेन सेवाएं चल रही हैं. हालांकि, इस खंड के निचले इलाकों में जल भराव के कारण कुर्ला और सायन के बीच मुख्य लाइन पर 10 से 15 मिनट की देरी है.

सुबह 11.05 बजे- आज तड़के शहर में भारी बारिश के बाद दृश्यता कम होने के कारण अंधेरी में तीन कारों के आपस में टकराने के बाद 8 घायल हो गए. कई इलाकों में 50 एमएम से ज्यादा की बारिश दर्ज की गई है. दृश्यता 300 मीटर तक गिरने और कम होने के कारण कई फ्लाइट में भी देरी हो गई है.

सुबह 10.50 बजे- शहर में भारी वर्षा के बाद, सायन रेलवे स्टेशन पर रेलवे ट्रैक जलमग्न हो गया है. सायन में सड़कों पर भी पानी भरा हुआ है. शहर के कई हिस्सों में अब भी बारिश जारी है. मुंबई में आज भी बारिश जारी रहने और बारिश के तेज होने की संभावना है.

सुबह 10.36 बजे- भारी बारिश के कारण मुंबई के कई इलाकों में जलभराव हो गया है. मुंबई के हिंदमाता, सायन में गांधी मार्केट, किंग्स सरकल जैसे इलाकों में पानी भरा हुआ है. इन इलाकों में सड़क पर चलने के लिए कमर तक के पानी से गुजरना पड़ रहा है. नीचे देखें इन इलाकों की फोटो

Mumbai Building Collapsed in Dongri: मुंबई में चार मंजिला इमारत गिरने से 14 लोगों की मौत, 30 से ज्यादा लोग फंसे, बचाव कार्य जारी

Mumbai Rains Weather Forecast Live Updates: मुंबई में मॉनसून का कहर, अगले 24 घंटे भारी बारिश का अलर्ट जारी, देखें फोटो वीडियो

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App