नई दिल्ली: आपके दरवाजे तक फ्रेश फल और सब्जी पहुंचाने के लिए दुनिया की बड़े मल्टीनेशनल कंपनियों ने आपस में साझेदारियां शुरू कर दी है. लोगों की रोजमर्रा की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए भारत में आने वाले दिनों में बड़ी सुपरमार्केट चेन देखने को मिल सकती है.

भारत में सुपरमार्केट में विदेशी निवेश की सीमा तय होने की वजह से जेफ बीजोज ने आदित्य बिरला ग्रुप के साथ हाथ मिलाकर भारत की रिटेल चेन में घुसने का रास्ता बनाना शुरू कर दिया है. वहीं अमेजॉन भी गोल्डमेन सैच और प्राइवेट इक्विटी फंड समारा कैपिटल के साथ बिरला के और ज्यादा सुपरमार्केट चेन खरीदने की तैयारी कर रहा है.

इसके अलावा बीजोस जिस दौड़ में शामिल है उसमें चीन के बड़े उद्योगपति जैक मा और मुकेश अंबानी भी शामिल हैं. इसलिए पिछले दिनों जैक मा और मुकेश अंबानी के बीच मुंबई में मुलाकात भी हुई. पेटीएम और बिग बास्केट के स्वामित्व वाली अलीबाबा रिलायंस रिटेल में 50 फीसदी की हिस्सेदारी खरीदने की सोच रही है.

रिलायंस रिटेल ग्रोसरी स्टोरी, इलेकट्रॉनिक स्टोर, अपेरल चेन और बहुत सारी चीजें बनाता है. भारत में रिटेल चेन की अपार संभावनाओं को देखते हुए एशिया के दो चिर प्रतिद्वंदी कंपनियां साथ मिलकर काम करने को तैयार हो गई है.

अमेजन किशोर बियानी की कंपनी फ्यूचर रिलेट के साथ बात कर रही है जिसने हाल ही में कहा था कि वो अपनी कंपनी के दस फीसदी शेयर किसी विदेशी कंपनी को बेचने को तैयार हैं. वहीं फ्लिपकार्ट ने भी वालमार्ट के साथ बात करने से पहले बिजोस से बात की थी. खबर है कि अलीबाबा ग्रुप भी फ्यूचर ग्रुप के साथ बातचीत कर रहा है जो बिग बाजार के स्वामित्व वाली कंपनी है.

ऐसा केस देख डॉक्टर भी हुए हैरान, बच्ची के दिमाग से निकले 100 से ज्यादा अंडे

Video: ओडिशा में 11 प्याज खाने के बाद देखिए क्या हुआ इस कोबरा सांप का हाल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App