भोपाल. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता बाबूलाल गौर का लंबी बीमारी के बाद बुधवार सुबह यहां एक निजी अस्पताल में निधन हो गया. गौर 89 वर्ष के थे. नर्मदा अस्पताल के निदेशक डॉ राजेश शर्मा ने बताया कि उनका निधन हार्ट अटैक के कारण हुआ. वह बुढ़ापे की विभिन्न बीमारियों से पीड़ित थे और काफी समय से अस्पताल में भर्ती थे. दिग्गज भाजपा नेता ने 2004-2005 तक मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में कार्य किया और 10 बार अपनी पारंपरिक गोविंदपुरा विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व किया. 2 जून 1930 को उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में जन्मे गौर, मध्य प्रदेश में एक शक्तिशाली और लोकप्रिय नेता के रूप में शुरू में एक ट्रेड यूनियन नेता और बाद में विधायक के रूप में उभरे.

89 वर्षीय बाबूलाल गौर को 7 अगस्त को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जब उनका रक्तचाप (ब्लड प्रेशर) कम हो गया था. वह फेफड़ों में संक्रमण से पीड़ित थे और आईसीयू में भर्ती थे. बाद में उनकी हालत बिगड़ने पर उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था. 2 जून 1930 को जन्मे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता को मध्य प्रदेश में भाजपा को विस्तार करने का श्रेय दिया जा सकता है. बाबूलाल गौर ने 2018 में अपने बुढ़ापे का हवाला देते हुए चुनावी राजनीति से संन्यास ले लिया था. बाद में, उनकी बहू कृष्णा गौर ने कार्यभार संभाला.

रिपोर्टों में कहा गया है कि उनकी स्थिति दिन-ब-दिन बिगड़ती जा रही थी और पल्स दर बहुत कम थी. डॉक्टरों ने यह भी कहा था कि उनकी किडनी भी ठीक से काम नहीं कर रही थी. रिपोर्ट्स में कहा गया है कि उनके कई अंग फेल हो चुके थे. बाबूलाल गौर के स्वास्थ्य के बारे में अपडेट प्राप्त करने के लिए सोमवार से राज्य के कई दिग्गज नेताओं ने अस्पताल का दौरा किया था. सतना सांसद गणेश सिंह और महिला बाल विकास मंत्री इमरती देवी भोपाल के नर्मदा अस्पताल में गौर से मिलने पहुंचे थे.

इससे पहले, पिछले महीने, उन्हें मध्य प्रदेश से एयर एम्बुलेंस के माध्यम से दिल्ली लाया गया था क्योंकि उनकी हालत बिगड़ रही थी. बाबूलाल गौर जो 2004 से 2005 तक अपने पद पर रहे. उनके बाद शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री की कुर्सी संभाली. एक अन्य भाजपा नेता और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली भी बहुत गंभीर स्थिति में हैं और उनका इलाज एम्स दिल्ली में चल रहा है. राष्ट्र उनके शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना कर रहा है और कई केंद्रीय मंत्री नियमित रूप से अस्पताल का दौरा कर रहे हैं.

Mohammed Zahur Khayyam Passes Away: मशहूर संगीतकार मोहम्मद जहूर खय्याम का 92 साल की उम्र में निधन, मुंबई के सुजय अस्पताल में ली अंतिम सांस

Ex Bihar CM Jagannath Mishra Death Profile: बिहार में कांग्रेस के आखिरी लोकप्रिय नेता पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा का निधन, जानिए कैसा था उनका दिलचस्प लेकिन विवादास्पद राजनीतिक करियर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App