भोपाल. कुछ ही दिनों बाद देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं. जहां मध्य प्रदेश विधानसभा 2018 से पहले चुनाव आयोग सख्त होता दिखाई दे रहा है. दरअसल मध्य प्रदेश के भिंड जिले फर्जी वोटर मामला सामने आया है. भिंड जिले में उत्तर प्रदेश के लोगों को मध्य प्रदेश का मतदाता बनाने की शिकायत पर निर्वाचन आयोन ने भिंड के कलेक्टर रहे आशीष कुमार गुप्ता को हटाने का निर्देश दिया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कलेक्टर आशीष कुमार के खिलाफ दिल्ली आयोग में शिकायत भेजी गई जिस पर तत्काल एक्शन लेते हुए उन्हें पद से हटा दिया गया है. चुनाव आयोग ने सख्ती बरतते हुए कलेक्टर के काम को नॉन परफॉर्मिंग माना है. वहीं इस मामले पर कांग्रेस ने भाजपा नेताओं को खदान आवंटन का आरोप भी मढ़ा है. कांग्रेस ने आरोप लगाया और कलेक्टर की शिकायत में कहा कि उन्होंने ये सब भाजपा नेताओं के दबाव में कर रहे हैं.

बतौर मीडिया चुनाव आयोग में शिकायत की आंकड़ा तीन हजार से पार चला गया है जिसमें से 300 से ज्यादा शिकायतें अधिकारियों के खिलाफ की गई है. याद दिलवाते चलें कि कुछ महीनें पहले मध्य प्रदेश के कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके 60 लाख फर्जी वोटर होने का आरोप लगाया था. जिसे लेकर कांग्रेस ने चुनाव आयोग का दरवाजा भी खटखटाया था. दिल्ली में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सबूत भी पेश किये थे.

2019 Lok Sabha Elections: पी चिदंबरम बोले- 2019 लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार नहीं बनाएगी कांग्रेस

Giriraj Singh Over Ram Mandir: गिरिराज सिंह बोले- भारत के मुस्लिम मुगलों के नहीं भगवान राम के वंशज, इसलिए राम मंदिर का विरोध छोड़ समर्थन करें

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर