नई दिल्ली. ब्लू व्हेल, किकी चैलेंज के बाद एक नया गेम मोमो WhatsApp Challenge भी जानलेवा साबित हो रहा है जिसकी वजह से भारत में पहली मौत हो चुकी है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार राजस्थान के अजमेर में 10वीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा ने पहले तो मोमो व्हाट्सअप चैलेंज को पूरा करने के लिए अपने हाथ की नस काट ली और फिर बाद में फांसी लगा कर अपनी जान दे दी.

बतौर मीडिया, छात्रा ने अपने जन्मदिन वाले दिन हाथ की नस काटी थी. छात्रा के मोबाइल फोन में मिली हिस्ट्री में मोमो गेम के नियम और छात्रा के शरीर पर बने निशानों की वजह से सदेंह है कि उसने गेम चैलेंज को पूरा करने के लिए फांसी लगाई. फिलहाल इस मामले में पुलिस जांच कर रही है और पता लगाने की कोशिश में जुटी है कि वास्तव में फांसी लगाने का क्या कारण था.

बता दें इन दिनों भारत में ही नहीं विदेश में मोमो व्हाट्सअप चैलेंज खूब लोकप्रिय हो रहा है. इस गेम में एक कार्टून की तरह देखने वाली महिला बच्चों को डराते व चैलेंज पूरा करने के लिए धमकाती हैं. इस गेम में सबसे पहले फोन पर एक मैसेज आता है और उस नंबर को सेव करने पर व्हाट्सअप प्रोफाइल पर डरावनी महिला जैसा एक कार्टून दिखता है. सोशल मीडिया के जरिए इस गेम में कई तरह के चैलेंज दिए जाते हैं और पूरा न करने पर धमकी दी जाती है. इस गेम की वजह से बच्चे अवसाद में चले जाते हैं और जान का खतरा बना रहता है.

ब्लू वेल चैलेंज गेम और किकी चैलेंज के बाद मोमो चैलेंज वायरल, जानिए क्या है मोमो व्हाट्सऐप सुसाइड गेम

ब्लू व्हेल गेम के बाद Momo चैलेंज करवा रहा लोगों से सुसाइड, ऐसें रहें सतर्क