नई दिल्ली

कराची में मदीना मस्जिद: पाकिस्तान के जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम-फजल (JUI-F) मौलाना ने सुप्रीम कोर्ट को दी धमकी। अगर मस्जिद गिराई गई, तो उनके ओहदे और दफ्तर भी सुरक्षित नहीं रहेंगे। कराची में बने एक पार्क में अवैध रूप से मस्जिद को गिराने का आदेश दिया। जिसके विरोध में JUI-F के मौलाना ने सुप्रीम कोर्ट को दी धमकी।

पाकिस्तान के मौलाना ने सुप्रीम कोर्ट को दी धमकी

पाकिस्तान में सुप्रीम कोर्ट ने बने अवैध मस्जिद को गिराने का आदेश देने के बाद सुप्रीम कोर्ट को मिली धमकी। JUI-F सिंध के महासचिव मौलाना राशिद महमूद सूमरो ने बुधवार को सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायधीश गुलज़ार अहमद और सिंध के मुख्यमंत्री सैयद अली शाह को कराची में बने अवैध रूप से मस्जिद को गिराने का आदेश दिया। मंगलवार के दिन कोर्ट ने तारिक रोड के पास एमेनिटी पार्क की जमीन पर बनें मस्जिद, कब्रिस्तान को गिराने का आदेश दिया।

मस्जिद गिरी तो लोगों के ओहदे भी सुरक्षित नहीं रहेंगे

सिंध के महासचिव मौलाना राशिद महमूद सूमरो ने एक कार्यक्रम के दौरान चिल्लाते हुए कहे कि किसी की इतनी जुर्रत नहीं मस्जिद की एक ईंट भी गिराए। अगर मस्जिद सलामत नहीं रहा तो किसी की ओहदे और दफ्तर भी सुरक्षित नहीं रहेंगे। अगर इतनी हिम्मत है तो मस्जिद गिरा के दिखाओ, मस्जिद कोई लावारिस नहीं है। हम उन सभी लोगों से बगावत करेंगे जो मस्जिद को गिरना चाहते है। मस्जिद को ध्वस्त करने के लिए हम जमीयत लोगों के सिरों से होकर जाना होगा।

यह भी पढ़ें:

Omicron Update: कोरोना मामलों में जबरदस्त उछाल 16764 नये मामले, ओमिक्रान केस बढ़कर 1270 हुए

UP Vidhan Sabha Election 2022 : मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा ने बताया, यूपी में तय समय पर होंगे चुनाव

SHARE