नई दिल्ली: मंगलवार को सीबीआई ने करप्शन, आर्म्स स्मगलिंग और आपराधिक मामले में मायावती और भूपेंद्र सिंह हुड्डा से जुड़े ठिकानों पर छापेमारी की. 30 अलग-अलग मामलों में 19 राज्यों की 110 लोकेशन पर ये छापेमारी की गई. सूत्रों के मुताबिक किन मामलों में ये छापेमारी की गई इस बारे में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं हो पाई है. जानकारी के मुताबिक इस छापेमारी में सीबीआई के 500 से ज्यादा अधिकारी शामिल थे.

सीबीआई के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इन मामलों में से एक मामला शुगर मिल डिसइनवेस्टमेंट घोटाले से जुड़ा है यूपी में मायावती की सरकार के समय हुआ था. वहीं दूसरा मामला हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भुपेंद्र सिंह हुड्डा के कार्यकाल में साल 2009 में हुए जमीन घोटाले से जुड़ा है. सीबीआई ने शुगर मिल मामले में सीबीआई ने लखनऊ और एनसीआर में 11 जगहों पर छापेमारी की. अधिकारियों के मुताबिक 6 मामलों की प्राथमिक जांच के बाद अप्रैल 2019 में सीबीआई ने मामला दर्ज किया था.

जिन राज्यों में ये सर्च ऑपरेशन किया गया उनमें दिल्ली, मुंबई, चंडीगढ़, जम्मू, श्रीनगर, पुणे, जयपुर, गोवा, रायपुर, हैदराबाद, मदुरई, कोलकाता, राउलकेला, रांची, बोकारो, लखनऊ, कानपुर और यूपी, उत्तराखंड, ओडिशा, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, आंध्र प्रदेश कर्नाटक और बिहार स्थित ठिकाने शामिल हैं. गौरतलब है कि एक हफ्ते के भीतर केंद्रीय जांच एजेंसी ने दूसरी बार ऐसा सर्च ऑपरेशन चलाया है. ऐसा ही एक सर्च ऑपरेशन बैंकों के साथ धोखाधड़ी मामले में पिछले मंगलवार को चलाया गया था.

फिलहाल ये साफ नहीं है कि सीबीआई को इन ठिकानों पर छापेमारी से क्या मिला और क्या नहीं? ये भी नहीं पता कि इस तरह की छापेमारी क्या आगे भी जारी रहेगी या नहीं लेकिन इतना जरूर है कि इतनी ताबड़तोड़ छापेमारी के पीछे कोई बड़ी वजह जरूर रही होगी और सीबीआई ने काफी कुछ जुटाया भी होगा. जाहिर है मायावती और हुड्डा दोनों ही इस छापेमारी के पीछे राजनीतिक साजिश करार देंगे लेकिन इतना जरूर है कि इस छापेमारी ने मायावती और हुड्डा के माथे पर शिकन जरूर ला दी होगी.

BSP Supremo Mayawati Slams BJP On Akash Vijayvargiya: आकाश विजयवर्गीय के बहाने बीएसपी सुप्रीमो मायावती का बीजेपी पर हमला- पीएम नरेंद्र मोदी की फटकार के बाद भी बिगड़ैल विधायक को पार्टी से नहीं निकाला

Modi Govt Centre Rejects Yogi UP 17 OBC Caste in SC List: यूपी में 17 ओबीसी जातियों को एससी में शामिल करने पर योगी आदित्यनाथ सरकार को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार से बड़ा झटका, थावरचंद गहलोत ने संसद में कहा- फैसला वापस ले राज्य सरकार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App