नई दिल्ली: संसद, पुलवामा और पठानकोट में हुए आतंकी हमले के पीछे के मास्टरमाइंड और जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मौलाना मसूद अजहर को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने वैश्विक आतंकी घोषित कर दिया है. चीन के विरोध हटाने के बाद मसूद अजहर को ग्लोबल टेरेरिस्ट घोषित किया गया है. इससे पहले चीन चार बार मसूद अजहर को ग्लोबल टेरेरिस्ट घोषित होने पर वीटो लगाता रहा था लेकिन चीन ने भी अब मसूद अजहर से अपनी सरपरस्ती हटा ली है.संयुक्त राष्ट्र में भारत के राजदूत सैय्यद अकबरुद्दीन ने ट्वीट कर जानकारी दी कि संयुक्त राष्ट्र ने मसूद अजहर को ग्लोबल आंतकी घोषित कर दिया है और मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित करने के लिए छोटे-बड़े सभी देश साथ आए जिनके हम शुक्रगुजार हैं. 

मुंबई में 2008 में हुआ आतंकी हमले के बाद भारत, अमेरिका समेत कई देशों ने मसूद अजहर को ग्लोबर आतंकी घोषित करने की मांग की थी. अमेरिका ने मसूद अजहर के सिर पर 10 मिलियन डॉलर का ईनाम भी रख दिया था बावजूद इसके मसूद अजहर पाकिस्तान सरकार और आईएसआई की सरपरस्ती में खुलेआम घूमता और भारत के खिलाफ जहर उगलता रहा. मसूद अजहर के पाकिस्तान में मदरसों की आड़ में आतंकी कैंप चलाता है. मसूद अजहर लोगों को धर्म के नाम पर आतंकी बनने के लिए प्रेरित करता है. पिछले दिनों भारत ने बालाकोट एयरस्ट्राइक कर जैश के आतंकी ठिकानों पर हमला किया था.

ग्लोबल आतंकी घोषित होने के बाद मसूद अजहर पर कई तरह के प्रतिबंध लगेंगे. सबसे पहले दुनियाभर में उसकी जहां भी कोई संपत्ति होगी उसे जब्त कर लिया जाएगा साथ ही उसके कहीं जाने पर भी प्रतिबंध होगा. मसूद अजहर अब किसी देश में यात्रा नहीं कर सकता. अगर वो ऐसा करता है तो उस देश की पुलिस के पास ये अधिकार होगा कि वो उसे गिरफ्तार कर ले. इसके अलावा अगर दुनिया के किसी भी देश के किसी भी बैंक में अगर उसका कोई बैंक खाता है तो उसे भी फ्रीज कर दिया जाएगा. पाकिस्तान सेना और पाकिस्तानी पुलिस पर भी अब मसूद अजहर को गिरफ्तार करने का दवाब होगा. मसूद अजहर अब पहले की तरह सभाएं नहीं कर सकेगा और अगर वो कहीं घूमता मिल जाता है मजबूरी में ही सही लेकिन पाकिस्तानी पुलिस को उसे गिरफ्तार करना होगा.

मसूद अजहर भारत की जेल में ही सड़ रहा होता लेकिन 1999 में हरकत-उल-मुजाहिद्दीन नाम के संगठन ने 78 यात्रियों के साथ इंडियन एयरलाइंस के विमान आईसी- 814 को हाईजैक कर लिया था और बदले में उसने भारत सरकार से तीन आतंकियों को छोड़ने की मांग की थी जिसमें मसूद अजहर भी शामिल था. मसूद अजहर को पाकिस्तान में दामाद की तरह रखा जाता रहा है. पाकिस्तानी आर्मी और ISI मसूद अजहर को सपोर्ट करती है जिसकी वजह से मसूद अजहर अबतक पाकिस्तान में चैन की जिंदगी गुजार रहा था.

Who Is Masood Azhar UNSC Global Terrorist: कौन है मौलाना मसूद अजहर जिस , पाकिस्तानी आतंकी व जैश ए मोहम्मद चीफ को संयुक्त राष्ट्र ने अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित किया

Masood Azhar UNSC Global Terrorist Social Media Reaction: 26/11 मुंबई हमले का मास्टरमाइंड मसूद अजहर संयुक्त राष्ट्र ग्लोबल आतंकवादी घोषित, सोशल मीडिया बोला- हमें मोदी जी पर गर्व है

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App