नई दिल्ली: निलंबित कांग्रेसी नेता मणिशंकर अय्यर ने मंगलवार को एक ऐसा बयान दे दिया है जिसपर बड़ा विवाद हो सकता है. लिटरेचर फेस्टिवल में शामिल होने पाकिस्तान गए मणिशंकर अय्यर ने कहा है कि भारत के लोगों से जितनी मुझे नफरत मिली है उतनी ही मोहब्बत पाकिस्तान के लोगों से मिली है.

कराची में आयोजित लिटरेचर फेस्टिवल में मणिशंकर अय्यर ने कहा कि ‘हजारों लोग हैं जिन्हें मैं जानता भी नहीं हूं. वो मेरे पास आ रहे हैं, मुझे गले लगा रहे हैं. मुझे बधाई दे रहे हैं, मुझे भारत में जितनी नफरत भारत में मिलती है उतना ही प्यार पाकिस्तान में मिल रहा है. मैं यहां आकर बहुत खुश हूं. मुझे यहां तालियां मिल रही हैं क्योंकि मैं शांति की बात कर रहा हूं.’

पाकिस्तानी टीवी चैनल जियो न्यूज ने मणिशंकर अय्यर के हवाले से कहा है कि नई दिल्ली इस्लामाबाद द्वारा भेजी जा रही वार्ता की कोशिशों को संजीदगी से नहीं लेता है. गौरतलब है कि गुजरात चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को नीच आदमी कहने की वजह से उन्हें कांग्रेस पार्टी से निकाल दिया गया था. उस दौरान मणिशंकर अय्यर ने कहा था कि उनकी खराब हिंदी की वजह से उनका बयान तोड़ मरोड़कर पेश किया गया.

पढ़ें- कराची में बोले कांग्रेस के निलंबित नेता मणिशंकर अय्यर, पाकिस्तान से उतना ही प्यार करता हूं जितना भारत से