मुंबई: महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों के लिए शिवसेना और बीजेपी में गठबंधन का फॉर्मूला तय हो गया है. दोनों पार्टियां 135-135 सीटों पर चुनाव लड़ेगी और बाकी की 18 सीटें एनडीए की सहयोगी पार्टियों जैसे रामदास आठवले की रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया, राष्ट्रीय समाज पक्ष और शिव संग्राम पार्टी के बीच बंटेगा. इसके अलावा ये भी तय हुआ है कि पांच सालों में दोनों पार्टिया का मुख्यमंत्री बनेगा. यानी पहले 2.5 साल बीजेपी का मुख्यमंत्री होगा जबकि बाकी के 2.5 साल शिवसेना का मुख्यमंत्री होगा.

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक बीजेपी के वरिष्ठ नेता और 6 बार विधायक रह चुके नेता ने बताया है कि दोनों पार्टियों के बीच सीट बंटवारे को लेकर भी फॉर्मूला तय हो गया है कि कौन कहां से चुनाव लड़ेगा. उन्होंने ये भी कहा कि शिवसेना कुछ सीटें बीजेपी से बदलना चाहती है क्योंकि उसे लगता है कि उन सीटों पर शिवसेना का प्रभाव ज्यादा है उसे लेकर दोनों पार्टियों में मंथन चल रहा है.

उन्होंने ये भी कहा कि छोटी पार्टियों को मनाने की कोशिश की जा रही है कि वो बीजेपी के चुनाव चिन्ह कमल पर ही चुनाव लड़े, हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि अंतिम फैसला उन्हीं का होगा कि किस चुनाव चिन्ह पर वो चुनाव लड़ते हैं. उन्होंने कहा कि दोनों पार्टियों के बीच पिछले हफ्ते ही बातचीत तय हो चुकी है कि किस सीट पर किस पार्टी का उम्मीदवार चुनाव लड़ेगा.

यानी महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने पॉवर शेयरिंग का फॉर्मूला तय कर रखा है. दोनों पार्टियों को अब बस चुनाव प्रचार पर पूरा फोकस करना है. देवेंद्र फडणवीस से जब सीट बंटवारे को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि जब सही समय आएगा तब जवाब जरूर दिया जाएगा. सीट बंटवारे के सवाल पर उन्होंने कहा था कि जब हमने हाथ मिलाया तभी से सीट बंटवारे को लेकर सवाल पूछा जा रहा है. दोनों पार्टियां सीट बंटवारे को लेकर निष्कर्ष पर पहुंच गए हैं, वक्त आने पर आपको बता दिया जाएगा.

Bombay High Court verdict on Maratha reservation: मराठा आरक्षण पर बॉम्बे हाई कोर्ट आज सुनाएगा फैसला, सरकार और विपक्ष की ये हैं दलीलें

NHM Maharashtra Recruitment 2019: नेशनल हेल्थ मिशन एनएचएम महाराष्ट्र ने सीएचओ पोस्ट पर निकाली 5716 वैकेंसी, आवेदन की आखिरी तारीख 1 जुलाई 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App