नई दिल्ली. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता शरद पवार आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर रहे हैं. दोनों महाराष्ट्र में किसानों के संकट के बारे में चर्चा करेंगे. दोनों नेता दोपहर में संसद में बैठक कर रहे हैं. यह बैठक इस समय महत्वपूर्ण है जब महाराष्ट्र में सत्ता संभालने के लिए शरद पवार की राकांपा की बहुत मांग है. राकांपा और कांग्रेस शाम को मिलेंगे, इस बात पर चर्चा करने के लिए कि शिवसेना, जो लंबे समय से भाजपा की सहयोगी है, ने हाल ही में सत्ताधारी दल के साथ सत्ताधारी दल के साथ अपना गठबंधन समाप्त कर लिया है. शिवसेना सरकार बनाने के लिए 50:50 की शक्ति साझा करने की गारंटी चाहती है, जिसमें ढाई-ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री शामिल है, लेकिन भाजपा ने इसे अस्वीकार कर दिया.

शिवसेना राकांपा और कांग्रेस से समर्थन लेकर सरकार बनाने की उम्मीद कर रही है, लेकिन दोनों विपक्षी दलों के विकल्प चुनने के बाद उसे इंतजार करने के लिए मजबूर होना पड़ा है. इसी के बीच राज्यसभा के 250 वें सत्र को चिह्नित करने के लिए सोमवार को एक बहस के दौरान एनसीपी के लिए पीएम मोदी ने प्रशंसा की.

यहां पढ़ें Maharashtra Sharad Pawar Narendra Modi Meeting:

Highlights

कांग्रेस-एनसीपी की बैठक के बाद संजय राउत से मिलेंगे शरद पवार

कांग्रेस-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) महाराष्ट्र समिति की आज दिल्ली में बैठक होगी. कांग्रेस-एनसीपी की बैठक के बाद शिवसेना नेता संजय राउत शरद पवार से मिलेंगे.

शिवसेना के 17 विधायक नाराज

सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस और एनसीपी के साथ गठबंधन करने के पार्टी के फैसले के खिलाफ शिवसेना के 17 विधायक नाराज हैं. ये 17 विधायक इससे पहले शिवसेना के वरिष्ठ नेता मनोहर जोशी के साथ मातोश्री में उद्धव से मिलने गए थे, लेकिन उद्धव ठाकरे के साथ उनकी बैठक नहीं हुई थी.

संजय राउत ने लिखा वेंकैया नायडू

राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू को लिखे पत्र में शिवसेना के संजय राउत ने कहा, यह जानकर हैरान रह गए कि आरएस चैंबर में मेरे बैठने की स्थिति 3 से 5 वीं पंक्ति में बदल दी गई है. यह निर्णय किसी ने जानबूझकर शिवसेना की भावनाओं को आहत करने और हमारी आवाज दबाने के लिए लिया था. मैं भी इस अनुचित कदम का कारण समझने में असफल रहा क्योंकि एनडीए से हटाने के बारे में कोई औपचारिक घोषणा नहीं हुई है. इस निर्णय ने सदन की गरिमा को प्रभावित किया है. हमें 1/2/3 पंक्ति सीट और सदन अलंकरण को बढ़ाने का अनुरोध किया.

शरद पवार ने कहा पीएम के ध्यान में लाने के लिए की बैठक

शरद पवार ने ट्वीट की एक श्रृंखला में प्रधान मंत्री से मिलने के बाद कहा, इस अभूतपूर्व स्थिति का जायजा लेने और व्यथित किसानों की चिंताओं को दूर करने के लिए मैंने नवंबर की पहली छमाही में नासिक और विदर्भ का दौरा किया था. इस वर्ष महाराष्ट्र के प्रमुख हिस्सों में खड़ी फसल मानसून की वापसी से लगभग हर जगह तबाह हो गई. मैं इस खतरनाक स्थिति को माननीय पीएम के ध्यान में लाने के लिए लाया.

शरद पवार ने शेयर किया लेटर

पीएम मोदी के साथ बैठक के बाद, राकांपा प्रमुख शरद पवार ने कहा, महाराष्ट्र में किसानों के मुद्दों पर चर्चा करने के लिए आज संसद में नरेंद्र मोदी ने मुलाकात की. इस साल की मौसमी बारिश ने महाराष्ट्र के 325 तालुकाओं को नष्ट कर दिया है, जिससे 54.22 लाख हेक्टेयर क्षेत्र से अधिक फसलों का भारी नुकसान हुआ है.

शरद पवार नें पत्र में लिखा...

एनसीपी चीफ शरद पवार ने पीएम मोदी को लिखे पत्र में महाराष्ट्र में किसानों की फसल खराब होने का मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा, 2 जिलों में फसलों के नुकसान का डेटा मेरे पास है. भारी बारिश की वजह से मराठवाड़ा, विदर्भ समेत पूरे महाराष्ट्र में नुकसान हुआ है. पीएम को लिखे पत्र में शरद पवार ने कहा, राज्य में राष्ट्रपति शासन की वजह से आपका तुरंत हस्तक्षेप जरूरी है. अगर आप परेशान किसानों की समस्याओं के समाधान के लिए कदम उठाएंगे तो मैं आपका आभारी रहूंगा.

शिवसेना नेता ने कहा- 5 दिनों के लिए कपड़े लेकर बुलाया गया है

शिवसेना नेता, अब्दुल सत्तार ने कहा, सभी विधायकों को 22 नवंबर को बैठक के लिए बुलाया गया है. हमें 5 दिनों के लिए अपना आईडी कार्ड और कपड़े लाने के लिए कहा गया है. मुझे लगता है कि हमें 2-3 दिनों के लिए एक जगह पर रहना होगा, फिर अगला कदम तय किया जाएगा. उद्धव ठाकरे जी निश्चित रूप से महाराष्ट्र के सीएम होंगे.

शरद पवार और पीएम मोदी के बीच केवल किसानों के मुद्दे पर बैठक

पीएम मोदी से मुलाक़ात के बाद एनसीपी नेता शरद पवार ने पत्रकारों को अपनी लिखी चिठ्ठी दिखा कर भरोसा दिलाया कि बात सिर्फ़ किसानों को लेकर हुई है महाराष्ट्र की कुर्सी को लेकर नहीं.

शरद पवार के साथ बैठक के बाद गृह मंत्री अमित शाह से बैठक कर रहे पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के बीच तकरीबन 40 मिनट मुलाकात हुई, शरद पवार ने कहा कि किसानों के मुद्दों को लेकर बात हुई. लेकिन दिलचस्प बात ये है कि इसी मीटिंग के तुरंत बार पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के बीच मीटिंग शुरू हो गई है.

पीएम मोदी से की किसानों के लिए अपील

राकांपा प्रमुख शरद पवार को पीएम को पत्र में लिखा, राज्य में राष्ट्रपति शासन की व्यापकता के कारण, आपका तत्काल हस्तक्षेप अत्यधिक आवश्यक है. यदि आप बड़े पैमाने पर राहत के उपाय शुरू करने और संकटग्रस्त किसानों के दुखों को दूर करने के लिए तत्काल कदम उठाते हैं, तो मैं आभारी रहूंगा.

शरद पवार ने लिखा पीएम मोदी को पत्र

राकांपा प्रमुख शरद पवार ने पीएम को लिखे पत्र में कहा, मैंने 2 जिलों से फसल क्षति के आंकड़े जुटाए हैं, लेकिन अत्यधिक बारिश के कारण नुकसान महाराष्ट्र के बाकी हिस्सों तक फैला है, जिनमें मराठवाड़ा और विदर्भ शामिल हैं. मैं उसी के बारे में विवरण और जानकारी एकत्र कर रहा हूं, जिसे आपको जल्द से जल्द भेजा जाना चाहिए.

शरद पवार और पीएम मोदी के बीच बैठक खत्म

एनसीपी प्रमुख शरद पवार पीएम मोदी से मिलने गए थे. महाराष्ट्र में किसानों के मुद्दों को लेकर दोनों की बैठक दोपहर 12:30 बजे शुरू हुई जो लगभग एक घंटे बाद खत्म हो गई है. शरद पवार और पीएम मोदी के बीच मुलाकात संसद में हुई. एनसीपी ने कहा है कि बैठक राज्य में किसानों की स्थिति के बारे में है.

शरद पवार ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

शरद पवार ने महाराष्ट्र में किसानों की दुर्दशा पर पीएम मोदी को पत्र लिखा, पवार ने नागपुर और नासिक जिलों में किसान की समस्याओं पर प्रकाश डाला. दोनों ने संसद में आज बैठक की.

शरद पवार और पीएम मोदी के बीच मुलाकात शुरू

एनसीपी प्रमुख शरद पवार पीएम मोदी से मिलने गए हैं. महाराष्ट्र में किसानों के मुद्दों को लेकर दोनों की बैठक दोपहर 12:30 बजे शुरू हुई. शरद पवार और पीएम मोदी के बीच मुलाकात शुरू हो गई है. एनसीपी ने कहा है कि बैठक राज्य में किसानों की स्थिति के बारे में है.

शिवसेना ने बुलाई विधायकों की बैठक

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने भी शुक्रवार को अपने आवास मातोश्री में अपनी पार्टी के विधायकों की बैठक बुलाई है. सेना, एनसीपी और कांग्रेस ने पहले से ही सामान्य न्यूनतम कार्यक्रम का मसौदा तैयार कर लिया है. अगर तीनों दल एक साथ आते हैं तो 288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा में उनकी बहुमत बहुमत से नौ सीटों पर 154 सीटें हो जाएंगी.

महाराष्ट्र सरकार बनाने के लिए नेता करेंगे बैठक

शिवसेना के साथ गठजोड़ करके महाराष्ट्र में सरकार बनाने पर विचार-विमर्श के अंतिम चरण की शुरुआत करने के लिए आज दिल्ली में शीर्ष नेताओं और एनसीपी के नेताओं की बैठक होने की उम्मीद है. पवार ने सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से उनके 10 जनपथ स्थित आवास पर मुलाकात की. लगभग एक घंटे तक चली बैठक के बाद, पवार ने कहा कि कांग्रेस और राकांपा महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ गठजोड़ की संभावना पर चुनाव पूर्व गठबंधन के अन्य सदस्यों के साथ बातचीत करेंगे.

महाराष्ट्र में सरकार बनाने पर चर्चा

एनसीपी नेता शरद पवार अब सरकार बनाने के लिए शिवसेना और कांग्रेस के साथ चर्चा कर रहे हैं. महाराष्ट्र में चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा ने जहां शरद पवार पर निशाना साधा था, वहीं प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को संसदीय मानदंडों का पालन करने के लिए उनकी पार्टी की प्रशंसा की.

राष्ट्रपति शासन के बाद पहली मुलाकात

महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लागू होने के बाद मोदी और पवार के बीच यह पहली बैठक है, जहां भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और शिव सेना ने चुनाव पूर्व गठबंधन किया था, लेकिन वे गठबंधन बनाने के बावजूद सरकार बनाने के लिए एक साथ नहीं रह सके.

किसानों के मुद्दे क्या हैं

लगभग 70 लाख हेक्टेयर भूमि पर बेमौसम बारिश से फसलों को नुकसान पहुंचाया है और कुल नुकसान लगभग 5000 करोड़ रुपये होने का अनुमान है. भाजपा की पूर्व सहयोगी शिवसेना ने भी स्थिति को प्राकृतिक आपदा नहीं मानने और केंद्रीय संसाधनों से किसानों को राहत देने के लिए सरकार पर निशाना साधा है.

संजय राउत ने बताया इसे आम मुलाकात

शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने कहा कि पवार से पीएम मोदी की मुलाकात के बारे में बहुत कुछ जानने को नहीं है. उन्होंने कहा, अगर कुछ नेता पीएम से मिलते हैं तो हमेशा कुछ पक रहा हो ये जरूरी नहीं. वह (पीएम मोदी) पूरे देश के लिए प्रधानमंत्री हैं और किसानों को महाराष्ट्र में समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. संसद के अंदर हों या बाहर, कोई भी पीएम से मिल सकता है.

किसानों के मुद्दे पर चर्चा

शरद पवार और नरेंद्र मोदी के बीच बैठक संसद में लगभग 12 बजे होगी. एनसीपी के प्रवक्ता नवाब मलिक ने कहा, महाराष्ट्र के किसानों के मुद्दे पर एनसीपी प्रमुख शरद पवार आज संसद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलेंगे. हम प्रधानमंत्री से किसानों के लिए कुछ राहत की मांग करेंगे.

मुलाकात है अहम

पीएम नरेंद्र मोदी और एनसीपी नेता शरद पवार के बीच ये मुलाकात बेहद अहम है. महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लागू होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राकांपा प्रमुख शरद पवार के बीच यह पहली बैठक है. पीएम मोदी-शरद पवार की मुलाकात इस समय काफी महत्वपूर्ण है जब महाराष्ट्र में सत्ता संभालने के लिए राकांपा की बहुत मांग है.

शरद पवार और पीएम मोदी की मुलाकात

एनसीपी के नेता शरद पवार आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर महाराष्ट्र में किसानों के संकट के बारे में चर्चा करेंगे. दोनों नेता दोपहर में संसद में मिलेंगे. एनसीपी प्रमुख शरद पवार बुधवार को संसद पहुंचे. उन्हें दिन में बाद में पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात करनी है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App