नई दिल्ली. नासिक से पैदल मार्च कर मुंबई पहुंच हजारों किसानों के हूजुम ने देश के लोगों का ही नहीं बल्कि विदेश में रह रहे लोगों को भी झकझोर कर रख दिया है. 200 किमी से ज्यादा चलकर आए इन किसानों के पैरों में छाले, बिवाई ने लोगों के रोंगटे खड़े कर दिए. हालांकि सोमवार को महाराष्ट्र सरकार ने किसानों की मांगे मान ली जिसके बाद किसानों ने आंदोलन वापस ले लिया.

जिन किसानों पर देश का पेट भरने की जिम्मेदारी है वो खुद बिना अन्न पानी के अपनी यात्रा को पूरा कर रहे थे. इन किसानों का दर्द उनकी तस्वीरे देखकर आप भी भांप सकते हैं. किसानों ने 200 किलोमीटर लंबी इस यात्रा में पैर में छाले, माथे पर पसीना और बिना खाए पीए शांतिपूर्ण तरीके से आंदोलन किया. किसानों के इस आंदोलन का असर सोशल मीडिया पर भी दिखा. सोशल मीडिया पर लोगों ने किसानों की पीड़ा को समझा और लोगों ने एकजुट होकर उनका समर्थन किया. सोशल मीडिया के जरिए किसानों की ऐसी फोटो वायरल हुईं जिसे देखकर कोई किसी की आंखों भी नम हो जाएं.

गौरतलब है कि किसानों ने ये आंदोलन कर्ज माफी, स्वामीनाथन सिफारशों को लागू करना और वन अधिकार कानून, 2006 सही ढंग से लागू हो. 7 मार्च को शुरू हुए इस आंदोलन को वापस ले लिया गया. सोमवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस की अध्यक्षता में महाराष्ट्र सरकार और किसानों के प्रतिनिधिमंडल के बीच एक बैठक हुई जिसके बाद सरकार ने नोटिफिकेशन भी जारी किया. ये आंदोलन जरूर वापस ले लिया गया हो लेकिन किसानों की पीड़ा किसी से छिपी नहीं है. हमने सोशल मीडिया के द्वारा ऐसी फोटो निकाली जिन्होंने किसानों की हालात को तस्वीरों के जरिए बयां किया.

Image may contain: one or more people and food

Image may contain: 1 personImage may contain: 5 people, hatImage may contain: 1 personImage may contain: 1 person, standing, crowd and outdoorImage may contain: 1 person, crowd, flower and outdoorImage may contain: one or more people, people standing, crowd, stadium and outdoorImage may contain: 28 people, people smiling, crowd and outdoorImage may contain: 24 people, people smiling, crowdImage may contain: 5 people, textImage may contain: 3 people, people sitting and hatImage may contain: 4 people, crowdImage may contain: 3 people, hat and outdoor

सभी फोटो सोशल मीडिया से ली गई हैं

मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने लिखित में दिया मांगें पूरी करने का आश्वासन, किसानों ने खत्म किया आंदोलन

बीजेपी सांसद पूनम महाजन बोलीं- किसान नहीं, शहरी माओवादी हैं प्रदर्शनकारी

हार्दिक पटेल का मोदी सरकार पर हमला, देश में भ्रष्टाचार, नहीं मिल रहा रोजगार

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App