Thursday, August 11, 2022

महाराष्ट्र संकट: बागी विधायक दीपक केसरकर का दावा- हमारे पास दो तिहाई विधायक, हम ही असली शिवसेना

महाराष्ट्र संकट:

मुंबई। असम के गुवाहाटी में डेरा जमाए शिवसेना के बागी विधायकों और मुंबई में मौजूद शीर्ष नेतृत्व के बीच सियासी वार-पलटवार जारी है। आज शिवसेना भवन में उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई। जिसमें कई प्रस्ताव पास किए गए और बागियों पर निशाना साधा। जिसके जवाब में बागी विधायकों की ओर से विधायक दीपक केसरकर सामने आए। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि उनके साथ शिवसेना के दो तिहाई से अधिक विधायक है और वो ही असली शिवसेना है।

हम असली शिवसैनिक- केसरकर

बागी विधायक दीपक केसरकर ने कहा कि असम में हमारे पास दो तिहाई से अधिक शिवसेना विधायक है। उन्होंने कहा कि पार्टी से बागी होने का सवाल ही नहीं उठता है। हम ही असली शिवसैनिक और शिवसेना हैं. मुख्यमंत्री ठाकरे ने शिवसेना खत्म करने के आरोप पर केसरकर ने कहा कि शिवसेना को एनसीपी और कांग्रेस खत्म करना चाहती थी। हम तो शिवसेना को बचाना चाहते हैं।

हमारी सुरक्षा हटाई गई- शिंदे गुट

राजनीतिक घमासान के बीच असम के गुवाहाटी में डेरा जमाए एकनाथ शिंदे गुट ने उद्धव सरकार पर बड़ा आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि महाराष्ट्र में हमारे आवास और दफ्तर के बाहर की सुरक्षा हटा ली गई है। बताया जा रहा है कि इसे लेकर शिंदे गुट ने मुख्यमंत्री उद्धव और राज्य के गृह विभाग को चिट्ठी लिखकर अपने परिवार के लिए सुरक्षा की मांग की है।

बागी विधायक सावंत के दफ्तर में तोड़फोड़

बता दें कि शिवसैनिकों के बवाल की आशंका के बीच के बागी विधायक तानाजी सावंत के दफ्तर में तोड़फोड़ की खबर सामने आ रही है। इस तोड़फोड़ का सीधा आरोप शिवसैनिकों पर लगाया गया है। बताया जा रहा है कि तोड़फोड़ करने वाले लोगों के हाथों में बाला साहेब के पोस्टर और शिवसेना के झंडे थे। इस दौरान वो उद्धव हम तुम्हारे साथ नारे लगा रहे थे।

शिवसेना की भाषा में मिलेगा जवाब

बागी विधायक तनाजी सावंत के दफ्तर में हुई तोड़फोड़ को सही ठहराते हुए शिवसेना के बड़े नेता चंद्रकांत जाधव ने कहा कि ये सिर्फ एक्शन का रिएक्शन है। सभी बागियों को शिवसेना की भाषा में जवाब दिया जायेगा और अब ये रिएक्शन पूरे महाराष्ट्र में दिखेगा।

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news