नई दिल्ली. महाराष्ट्र कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच प्रदेश के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को एक प्रेस कॅान्फ्रेंस करके जनता की संबोधित किया मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा, ‘मैं लॉकडाउन की बात नहीं कर रहा लेकिन जो प्रतिबंध लगाए जा रहे हैं वो लॉकडाउन जैसे ही हैं. आपकी जान बचाना मेरी पहली प्राथमिकता है. महाराष्ट्र में कल रात 8 बजे से ब्रेक द चेन अभियान की शुरुआत होगी.

पंढरपुर में जहां तीन-चार दिन में चुनाव है वहां कुछ दिन बाद ये प्रतिबंध लागू होंगे. 14 अप्रैल रात 8 बजे से पूरे राज्य में अगले 15 दिनों तक धारा 144 यानी बिना जरूरत के आना जाना प्रतिबंधित होगा. ये जनता कर्फ्यू है. आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सबकुछ बंद रहेगा.’.  सुबह 7 से 8 बजे तक, केवल आवश्यक सेवाएं ही कार्य करेंगी. ये चिकित्सा सेवाएं, बैंक, मीडिया, ई-कॉमर्स और ईंधन हैं. होटल और रेस्तरां के लिए प्रतिबंध जारी रहेंगे. हालांकि होम डिलीवरी और टेकअवे की अनुमति होगी. 1 मई तक यह नियम लगाए गए हैं.

ये सेवाएं राज्य में रहेगीं चालू

राज्य में अगले 15 दिन तक सुबह सात से रात आठ बजे तक सिर्फ अत्यावश्यक सेवाएं चालू रहेंगी. लोकल ट्रेनें, बस, पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद नहीं होंगे. लेकिन ये सेवाएं सिर्फ अत्यावश्यक सेवाओं के लोगों के लिए ही होंगी. पुलिस, पानी सप्लाई, महानगरपालिका के कर्मचारियों के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट चालू रहेंगे. कृषि क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए ये सेवाएं चालू रहेंगी. ऑटो और टैक्सी अत्यावश्यक सेवा से जुड़े लोगों के लिए चालू रहेंगी. बैंकिंग और ई-कॉमर्स सेवाएं चालू रहेंगी. पत्रकारों और मीडियाकर्मियों के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट चालू रहेंगे.

सीएम ने कहा कि कंस्ट्रक्शन सेक्टर में जिन साइटों पर सुविधाएं हैं मजदूरों को वहां रखें. ऐसे में उनका आना जाना कम हो जाएगा. सीएम ने राज्य के लोगों से अपील की कि अनावश्यक घरों से न निकलें. होटल और रेस्टोरेंट टेक-अवे और होम डिलीवरी के लिए खुले रहेंगे. वहां बैठकर खा नहीं सकते.

उन्होंने कहा, “लोगों को यह तय करना होगा कि वे कोरोना की मदद करना चाहते हैं या सरकार जो इसे रोकने के लिए काम कर रही है. लोकल ट्रेनों सहित सार्वजनिक परिवहन को बंद नहीं किया जाएगा.”

ठाकरे ने कहा कि राज्य ने बढ़ते संक्रमण के बीच कोरोनोवायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई फिर से शुरू कर दी है और कहा है कि राज्य में ताजा मामले अब तक के सबसे ज्यादा थे. “पिछले साल नवंबर और दिसंबर में कोविड -19 पर कुछ नियंत्रण था. हम मामलों को जनवरी और फरवरी तक जांच में रखने में कामयाब रहे थे. हमने वायरस के खिलाफ अपनी लड़ाई फिर से शुरू कर दी है क्योंकि संख्या में वृद्धि हुई है. आज की संख्या आज तक की सबसे अधिक है जोकि 60,212 है, “उद्धव ठाकरे ने कहा,”राज्य में कोविद की स्थिति भयानक हो गई है  मामलों में वृद्धि ने अब स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे पर बोझ डाला है. ”

राज्य के लोगों को संबोधित करते मुख्यमंत्री ने कहा, “दुर्भाग्य से मुझे और अधिक प्रतिबंधों की घोषणा करनी है. अब कार्रवाई का समय है. मैं अभी लॉकडाउन नहीं कह रहा हूं, लेकिन सख्त प्रतिबंध हैं. मुझे पता है कि रोटी और नौकरी महत्वपूर्ण है, लेकिन जीवन को बचाना महत्वपूर्ण है.” ठाकरे ने राज्य में ऑक्सीजन और दवा की कमी से निपटने में सेना की मदद का अनुरोध किया.

पीएम से की अपील

उन्होंने कहा “अब हमारे पास ऑक्सीजन का 1,200 मीट्रिक टन उत्पादन है और हम इसका उपयोग चिकित्सा उद्देश्यों के लिए कर रहे हैं. हम इसे झुकाव के लिए उपयोग कर रहे हैं, मैंने पीएम (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) से कहा, इस स्थिति को देखते हुए, कि आने वाले दिनों में हमें ऑक्सीजन आवश्यकता होगी.” “हम पीएम से अनुरोध कर रहे हैं कि सड़क मार्ग से ऑक्सीजन लाने के बजाय, अगर हम सैन्य सहायता ले सकते हैं और इसे हवा के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं.”

महाराष्ट्र ने मंगलवार को कोरोनोवायरस के 60,212 नए मामले दर्ज किए गए, जबकि 281 लोगों की मौत हो गई. सीएम ठाकरे ने अपने संबोधन में घोषणा की और कहा कि वह भारतीय वायु सेना के माध्यम से ऑक्सीजन की सोर्सिंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मदद लेंगे. ठाकरे ने कहा, “मैं पीएम को लिख रहा हूं कि वे वायुसेना को ऑक्सीजन की आपूर्ति करने की अनुमति दें.”

ठाकरे ने कहा कि राज्य ने बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित कर दिया था, “हम उस परीक्षा को स्थगित नहीं कर सकते जो हम वर्तमान में दे रहे हैं और हमें इसे उड़ने वाले रंगों के साथ पारित करना होगा.”

वह पिछले सप्ताह शुक्रवार को सर्वदलीय बैठक का जिक्र कर रहे थे, जिसके दौरान उन्होंने संकेत दिया कि राज्य में बढ़ते कोविड -19 मामलों को रोकने के लिए लॅाकडाउन की जा सकती है. रविवार को, उन्होंने राज्य में कोविड -19 टास्क फोर्स के सदस्यों से मुलाकात की और कहा कि हितधारकों के साथ परामर्श करने के बाद एक मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) तैयार की जाएगी.

How to Update Aadhaar Card : आधार कार्ड में गलत हो गया है नाम, एड्रेस और जन्म तिथि तो नहीं ले तो एक क्लिक पर घर बैठे ऐसे करें ठीक

PNB Bank Free Training: पंजाब नेशनल बैंक महिलाओं को पैसा कमाने का दे रहा शानदार मौका, महिलाओं को फ्री में मिलेगी ट्रेनिंग

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर