मुंबईः मराठा आंदोलन के दौरान हिंसा फैलाने के चलते महाराष्ट्र एटीएस ने कट्टर हिंदूवादी समूहों से जुड़े तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. साथ ही एटीएस ने हथियार भी बरामद किए. पुलिस का दावा है कि उन्होंने तीन व्यक्तियों की आतंक आरोपों में गिरफ्तारी के बाद उनसे 5 और देशी पिस्टल के साथ बड़ी मात्रा में गोली, बारूद बरामद की. गिरफ्तार किए गए तीनों व्यक्तिय़ों में से एक व्यक्ति दक्षिणपंथी समूह से है.  

गौरतलब है कि एटीएस ने 10 अगस्त को 40 साल के वैभव राउत को गिरफ्तार किया था.वैभव नालासोपारा इलाके में गौसंरक्षण संगठन हिंदू गोवंश रक्षा समितिका संचालन करता था. जिसके बाद एटीएस ने पालघर और पुणे से शरद कालास्कर (25) के अलावा 39 साल के सुधनवा गोंधलेकर को गिरफ्तार किया. एटीएस की ओर से जारी बयान में कहा गया कि आरोपियों से पूछताछ के बाद नालासोपारा इलाके से पांच देशी पिस्तौल, 41 गोलियां आदि बरामद किए गए. 

एटीएस को जांच में पता लगा है कि ये तीनों आरोपी मराठा मोर्चा के पास ब्लास्ट करना चाहते थे जिससे की इनकी मांगों को जल्द से जल्द माना जाए. एटीएस की मानें तो ये तीनों मुंबई, पुणे, सातारा, सोलापुर और नालासोपारा में भी ब्लास्ट की योजना बना रहे थे. एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि इन लोगों ने मराठा मोर्चा के पास की ब्लास्ट प्लान किया था. इनमें से एक आरोपी सुधनवा गोंधलेकर श्री शिव प्रतिष्ठान हिंदुस्तान का सदस्य है जिसका प्रमुख संभाजी भिड़े है.

यह भी पढ़ें- Maharashtra Bandh Highlights: पथराव कर मराठा समुदाय के लिए आरक्षण मांग रहे प्रदर्शनकारी, मुंबई में जबरन बंद करा रहे दुकानें

मराठा आरक्षण पर नितिन गडकरी: घट रहे हैं सरकारी जाॅब, रिजर्वेशन नौकरी की गारंटी नहीं

 

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App