चेन्नई: मद्रास हाई कोर्ट की मदुरई बैंच ने टिक टॉक वीडियो ऐप पर लगा प्रतिबंध हटा दिया है. मद्रास हाई कोर्ट की मदुरई बेंच ने ही टिक टॉक पर अश्लील वीडियो की भरमार होने के आरोपों पर सुनवाई करते हुए 13 अप्रैल को अपने फैसले में केंद्र सरकार को आदेश जारी करते हुए कहा था कि टिक टॉक की डाउनलोडिंग पर पूरी तरह बैन लगाया जाए. साथ ही कोर्ट ने मीडिया से भी कहा था कि वो टिक टॉक के वीडियो का प्रसारण ना करे.

सरकार के आदेश पर गूगल और एप्पल ने अपने स्टोर से टिक टॉक ऐप हटा लिया था. बुधवार को मामले पर हुई सुनवाई के दौरान हाई कोर्ट ने कहा कि बच्चों के खिलाफ अपराध ही कोर्ट की चिंता का विषय है. जस्टिस किरुबाकरन और जस्टिस एस एस सुंदर ने टिक टॉक पर लगे अंतरिम प्रतिबंध को हटाते हुए ये बात कही.

 हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने मद्रास हाईकोर्ट को कहा था कि वह टिक टॉक बैन मामले में 24 अप्रैल को अंतरिम रोक के आदेश पर विचार करें. सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा था कि अगर हाईकोर्ट इस बात पर विचार नहीं किया तो अंतरिम रोक हटा दी जाएगी. दरअसल हाईकोर्ट के आदेश के बाद टिक टॉक बैन को लेकर सुप्रीम पुर्नविचार याचिका दाखिल की गई थी.

टिक टॉक बैन होने से टूट गया था काफी युवाओं का दिल
मद्रास हाईकोर्ट के टिक टॉक बैन करने के फैसले ने बड़ी संख्या में युवाओं को झटका लगा था. काफी लोगों ने सोशल मीडिया पर कड़ी प्रतिक्रियाएं भी दी थी. काफी युवाओं का कहना था कि वे टिक टॉक पर कोर्ट के बैन से खुश नहीं है. टिक टॉक पर वीडियो बनाकर वे अपना टेलेंट दुनिया के सामने ला रहे थे, जिसका काफी बड़ा फायदा भी उन युवाओं का मिल रहा था.

सिर्फ युवा ही नहीं, बूढ़े और बच्चे भी हैं टिक टॉक के फैन
देश में टिक टॉक की दिवानगी सिर्फ युवाओं में नहीं बल्कि बच्चे और बूढ़ों में भी है. काफी लोग मनोरंजन के लिए भी टिक टॉक एप का इस्तेमाल करते हैं तो कई लोग टिक टॉक के जरिए अपना टैलेंट भी लोगों के सामने लाने की कोशिश करते हैं.

SC On TikTok Ban: टिक टॉक बैन मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने मद्रास हाईकोर्ट से कहा 24 अप्रैल को अंतरिम रोक के आदेश पर विचार करे

WhatsApp Chat Screenshot Feature Removed: अब व्हाट्सएप पर नहीं ले सकते चैट का स्क्रीनशॉट, होगा ये बड़ा नुकसान

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App