भोपाल: साम, दाम, दंड, भेद लगाकर भले ही सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मध्य प्रदेश में दोबारा सरकार बना ली हो लेकिन कैबिनेट विस्तार ना होने की वजह से मध्य प्रदेश वासी खुद को अनाथ महसूस कर रहे हैं. राज्य में अभी तक ना तो कोई गृहमंत्री है और ना ही स्वास्थ्य मंत्री जो संकट की इस घड़ी में लोगों की जान बचाने के उपाय कर सके. पूरी दुनिया में कोरोना की वजह से हाहाकार मचा हुआ है. देश- विदेश में युद्धस्तर पर कोरोना से लड़ने के उपाय हो रहे हैं लेकिन शिवराज सरकार पूरी तरह उदासीन बनी हुई है. आकंड़ों के लिहाज से देखें तो मध्य प्रदेश में आपातकाल सरीखा माहौल है.

कोरोना जैसी घातक वैश्विक बीमारी के प्रति राज्य सरकार की ऐसी उदासीनता के खिलाफ सोशल मीडिया पर लोगों का गुस्सा भड़क रहा है. ट्विटर पर गुरुवार देर शाम हैशटैग शिवराज लाए कोरोना ट्रेंड करने लगा. इस दौरान लोग कोरोना से निपटने के लिए राज्य सरकार की तैयारियों को लेकर शिवराज सरकार की जमकर निंदा करने लगे. एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि इंदौर के भयावह हालात के जिम्मेदार स्वयं मुख्यमंत्री है, उनकी सत्ता की लालच ही इंदौर के लिए मुसीबत बन चुकी है.

गौरतलब है कुछ दिन पहले मध्य प्रदेश कांग्रेस ने कोरोना के बढ़ते मामले को लेकर राज्य सरकार पर हमला बोला था.  एमपी कांग्रेस ने ट्विटर पर लिखा था कि कोरोना से मध्य प्रदेश में संक्रमण का औसत दो गुना, ठीक होने का औसत आधा और मरने का औसत तीन गुना है. किसकी नजर लग गई मध्य प्रदेश को.. इसके साथ ही एमपी कांग्रेस ने लिखा शिवराज पनौती. कुछ ही देर बाद ट्विटर पर शिवराज पनौती ट्रेंड करने लगा.

देश में लॉकडाउन- 2 का दूसरा चरण शुरू ही हुआ है और राज्य में अबतक 55 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या 1000 के पार पहुंच गई है. इंदौर कोरोना से सबसे ज्यादा ग्रस्त है जहां अबतक 696 मामले सामने आ चुके हैं. मध्य प्रदेश के 24 जिलों में कोरोना अपना पांव पसार चुका है. अकेले भोपाल और इंदौर में कोरोना के 80 फीसदी मामले हैं.

एमपी में कोरोना के अबतक 1041 मामले दर्ज हो चुके हैं जिनमें सबसे ज्यादा 696 इंदौर, 168 भोपाल, 27 उज्जैन, 17 खरगोन, 14 मुरैना, 14 होशंगाबाद, 13 विदिशा, 12 जबलपुर, 7 देवास , 7 शाजापुर, 6 ग्वालियर, 15 खंडवा, छिंदवाड़ा और रायसेन में 4-4, आगर मालवा 3, श्योपुर 3, मंदसौर, सतना, शिवपुरी, धार में 2-2, टीकमगढ़, शाजापुर, बैतूल, सागर, रतलाम और अलीराजपुर में एक-एक कोरोना संक्रमित मरीज मिला है.

MP Corona Update: कोरोना संकट के बीच मध्य प्रदेश कांग्रेस ने शिवराज सिंह को बताया पनौती, कहा- MP को किसकी नजर लग गई ?

Rahul Gandhi on Corona: राहुल गांधी बोले- लॉकडाउन स्थाई समाधान नहीं, कोरोना को हराने के लिए तेज करनी होगी जांच

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर