नई दिल्ली. मध्य प्रदेश में हुए विधानसभा चुनावों में काग्रेंस ने बीजेपी को हराकर शिवराज सरकार का सूपड़ा-साफ कर दिया है. कांग्रेस को इस बार मध्य प्रदेश में 114 सीटें जीती हैं,और बीजेपी के खाते में 108 सीटें हैं. पार्टी को बहुमत के आंकड़े के लिए 116 सीटें चाहिए थी जो कि बसपा और सपा का समर्थन मिलने के 117 सीट हो गई हैं. इसके बाद कांग्रेस ने प्रदेश में अबकी बार सरकार बना ली है, वहीं आज सीएम के पद का भी फैसला हो गया है. मध्यप्रदेश का अगला मुख्यमंत्री पार्टी ने कमलनाथ को चुना है, सीएम इलेक्ट कमलनाथ ने पूरे प्रदेश की जनता को धन्यवाद दिया है.

वहीं मुख्मंत्री बनने के बाद कमलनाथ ने कांग्रेस विधायक दल की बैठक में कहा कि यह पद मेरे लिए मील का पत्थर है. इस बैठक में उन्होंने कहा कि 13 दिसंबर को इंदिरा गांधी जी छिंदवाड़ा आईं थी और मुझे जनता को सौंपा था. इसके साथ ही कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर उन्होंने कहा, ज्योतिरादित्य को मेरा धन्यवाद जो उन्होंने मेरा समर्थन किया मेरी कोई माँग नहीं थी मैंने अपना पूरा जीवन बिना किसी पद की भूख के कांग्रेस पार्टी को समर्पित किया है. मैंने संजय गांधी जी , इंदिरा गांधी जी , राजीव गांधी जी और अब राहुल गांधी के साथ काम किया. वहीं पार्टी के कार्यकर्ताओं से कमलनाथ ने कहा कि आने वाले समय में हम सब मिलकर पार्टी के घोषणा पत्र को पूरा करेंगे.

कांग्रेस ने 15 साल से मध्य प्रदेश में जमी हुई शिवराज सरकरा को बाहर का रास्ता दिखाया है. इसके साथ ही मध्य प्रदेश की सत्ता में वापस लौटे कर आई है और अब प्रदेश की जनता पर खरी उतरने की कोशिश करेगी. पार्टी ने प्रदेश की जिम्मेदारी कमलनाथ को दी है क्योंकि वह विश्वसनीय नेताओं में से एक हैं. बता दें कि मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा लोकसभा सीट से कमलनाथ 9 बार सांसद रह चुके हैं.

Kamalnath Elected New CM For MP: मध्यप्रदेश में कमलनाथ होंगे मुख्यमंत्री, नहीं होगा कोई डिप्टी सीएम

Madhya Pradeh Election Result 2018: मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान का मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा, कमलनाथ ने पेश किया सरकार बनाने का दावा

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App