नई दिल्ली: त्योहारों के सीजन में केंद्रीय कर्मचारियों को खुश करने और अर्थव्यवस्था को थोड़ा बूस्ट देने के उद्देश्य से केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एलटीसी वाउचर स्कीम चालू की है जिसके तहत सरकारी कर्मचारी एलटीसी छुट्टियों के बदले कैश वाउचर ले सकते हैं. हालाकिं सरकार ने इन वाउचरों का इस्तेमाल करने के लिए भी एक कंडीशन लगाई है. इन वाउचर का इस्तेमाल सिर्फ ऐसे गैर-खाद्य सामान खरीदने के लिए किया जा सकता है जिनपर GST लगता है.

एलटीसी कैश वाउचर लेने के एवज में आपको छुट्टियों के लिए पूरा भुगतान नगद में किया जाएगा. इसके अलावा यात्रा किराया जो कर्मचारी के ग्रेड के अनुसार तय होते हैं वो तीन स्लैब में होंगे. यात्री किराया टैक्स फ्री होगा. इस स्कीम में ये भी प्रावधान है कि यात्रा किराए से मिले पैसे से कर्मचारी को तीन सामान खरीदना ही होगा. साथ ही 1 बार छुट्टी के बदले मिले पैसे से 31 मार्च से पहले सामान खरीदना होगा. जिन सामानों पर 12% या उससे ज्यादा GST है उसे कर्मचारियों को रजिस्टर्ड वेंडर से लेना होगा और इसके लिए डिजिटल मोड से पेमेंट करना होगा.

वित्त मंत्री ने कहा कि एलटीसी कैश वाउचर स्कीम के तहत, सरकारी कर्मचारी छुट्टियों के लिए नकद राशि का विकल्प चुन सकते हैं. उन्होंने कहा कि मांग को प्रोत्साहन के लिए खर्च के लिए अग्रिम में राशि दी जाएगी और विशेष त्योहार अग्रिम योजना शुरू की जाएगी. गौरतलब है कि केंद्र सरकार हर चार साल में अपने कर्मचारियों को उनकी पसंद के किसी गंतव्य की यात्रा के लिए एलटीसी देती है. इसके अलावा एक एलटीसी उन्हें उनके होम टाउन की यात्रा के लिए दिया जाता है. निर्मला सीतारमण ने कहा कि केंद्र सरकार अर्थव्यवस्था में मांग को प्रोत्साहन के लिए अपने सभी कर्मचारियों को एकमुश्त 10,000 रुपये का विशेष त्योहार अग्रिम देगी.

7th Pay Commission: सातवें वेतन से जुड़ी इन बातों को नहीं जानते होंगे आप, जानें सारी डिटेल्स

7th Pay Commission: सरकार का केंद्रीय कर्मचारियों को तोहफा, हवाई यात्रा की मिली सुविधा

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर