नई दिल्ली. लोकसभा 2019 चुनाव में पीएम नरेंद्र मोदी कहां से चुनाव लड़ेंगे, यह साफ होता नजर आ रहा है. सूत्रों के मुताबिक पीएम नरेंद्र मोदी अपना संसदीय क्षेत्र नहीं बदलेंगे और वाराणसी से ही चुनाव लड़ेंगे. बुधवार को कांग्रेस ने प्रियंका गांधी को महासचिव बनाकर पूर्वी उत्तर प्रदेश की कमान सौंपी है ऐसे में पीएम मोदी का वाराणसी से चुनाव लड़ना जरूरी है. प्रियंका गांधी पूर्वांचल में न सिर्फ बीजेपी बल्कि अन्य पार्टियों के वोट काटकर कांग्रेस के पक्ष में लाने की कुव्वत रखती हैं. ऐसे में शायद बीजेपी पीएम नरेंद्र मोदी को पूर्वी यूपी से हटाने का जोखिम मोल न ले.

  1. अखिलेश यादव की सपा और मायावती की बसपा के गठबंधन करने के बाद 2019 लोकसभा चुनाव और भी दिलचस्प होने वाला है. दोनों पार्टियों ने 38-38 सीट पर चुनाव लड़ने का ऐलान किया है. रायबरेली और अमेठी सीट कांग्रेस के लिए छोड़ी गई हैं.
  2. इन सीटों पर बसपा-सपा गठबंधन अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगा. 3 सीट-बागपत, मथुरा और मुजफ्फरनगर अजीत सिंह की आरएलडी को दी गई हैं. 
  3. कांग्रेस को सपा-बसपा गठबंधन में जगह नहीं मिली है. बुधवार को प्रियंका गांधी को कमान देने के बाद राहुल गांधी ने कहा था कि वे मायावती और अखिलेश यादव का बहुत सम्मान करते हैं और तीनों पार्टियों की विचारधारा एक ही है.
  4. हमारा मकसद बीजेपी को सत्ता से हटाना है और जहां सहयोग की जरूरत होगी, हम करेंगे. प्रियंका गांधी लोकसभा चुनाव लड़ेंगी या नहीं, इस पर राहुल ने कहा कि यह फैसला उनका है. कांग्रेस चीफ ने कहा था कि प्रियंका गांधी के राजनीति में आने से बीजेपी वाले डर गए हैं. 

Telangana Congress Poster Controversy: तेलंगाना कांग्रेस ने पोस्टर में KCR, ओवैसी को कौरव और लोकतंत्र को द्रौपदी बताया, AIMIM चीफ बोले- हद में रहे कांग्रेस

Sumitra Mahajan on Rahul Gandhi: लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन का तंज- राहुल गांधी राजनीति नहीं कर सकते तभी प्रियंका गांधी को लाया गया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App