नई दिल्ली. चुनाव आयोग ने 2019 लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है. पूरे देश में 7 चरण 11, 18, 23 अप्रैल और 6, 12, 19 मई को वोट डाले जाएंगे. मुख्य चुनाव आयुक्त (सीईसी) सुनील अरोड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसकी जानकारी देते हुए कहा कि 23 मई को चुनाव के नतीजों की घोषणा की जाएगी. लेकिन हैरानी की बात है कि इस बार प्रेस कॉन्फ्रेंस के 2 घंटे बाद प्रेस रिलीज मीडिया को दी गई, जिसमें सिलसिलेवार सीटों पर चुनाव की जानकारी है.

ऐसा शायद पहली बार हुआ, जब लोकसभा चुनाव के ऐलान के बाद भी यह नहीं पता चला कि किस राज्य की किस सीट पर किस चरण में चुनाव होगा. कहीं ऐसा तो नहीं कि चुनाव आयोग आधी-अधूरी तैयारी के साथ चुनाव की तारीखों का ऐलान करने पहुंच गया हो. पीसी में मौजूद मीडियाकर्मियों ने जब सवाल पूछा कि तारीखों का ऐलान इतनी देर से क्यों किया गया तो सीईसी सुनील अरोड़ा ने कहा कि 2014 में 5 मार्च को चुनाव की तारीखों का ऐलान हुआ था. लेकिन उसे बेंचमार्क न समझा जाए.

ऐसा नहीं है कि हर बार उसी तारीख को लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होगा. सीईसी ने कहा, 2014 से पहले के लोकसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान विभिन्न तारीखों पर हुआ है. सीईसी ने कहा कि मौजूदा लोकसभा का कार्यकाल 3 जून को पूरा हो रहा है. हालांकि प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान सीईसी खुद कई जगह कन्फ्यूज नजर आए.

उन्होंने बात कहने के बाद कई बार मीडियाकर्मियों से माफी भी मांगी. तारीखों का ऐलान कुछ इस तरह किया गया कि लोगों का सिर भी चकरा गया. दरअसल विपक्ष ने चुनाव आयोग पर लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान में देरी को लेकर निशाना साधा था. ऐसे में मुमकिन है कि जल्दबाजी में चुनाव आयोग ने रविवार शाम ही बिना ज्यादा तैयारी किए प्रेस कॉन्फ्रेस कर दी हो.

Lok Sabha Elections 2019 Jharkhand Seats Voting Results Date: झारखंड में 29 अप्रैल से 19 मई तक चार चरणों में होगी लोकसभा चुनाव के लिए वोटिंग, 23 मई को रिजल्ट

Lok Sabha Elections 2019 Uttarakhand Seats Voting Results Date: उत्तराखंड में एक चरण में 11 अप्रैल को होगी लोकसभा चुनाव 2019 वोटिंग, 23 मई को रिजल्ट, 19 मार्च से नामंकन शुरू

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App