आगरा: यूपी की ताज सिटी आगरा से एक अजीब मामला सामने आया है जहां दो समलैंगिक युवतियों ने सबकी आंखों में धूल झोंककर एक सामुहिक सम्मेलन में शादी रचा ली. इसके लिए एक युवती ने लड़का बनकर रजिस्ट्रेशन भी करवाया. शादी के बाद प्रेमी जोड़ा एक किराय के मकान में रहने लगे. वहीं जब इनमें से एक युवती के परिजनों ने उसकी खोजबीन करते हुए बीते दिन ढूंढ निकाला तो सारा मामला खुलकर सामने आ गया. फिलहाल मामले पुलिस के पास है. दोनों लड़कियों के परिवार में बातचीत चल रही हैं वहीं युवतियां एक साथ रहने पर अड़ी हुई हैं.

मिली जानकारी के मुताबिक, आगरा के थाना एत्माद्दौला क्षेत्र की निवासी इन दोनों युवतियों के काफी अरसे से समलैंगिक संबंध थे. कॉलेज में पढ़ाई के दौरान दोनों में प्रेम-प्रसंग हुआ था. हालांकि, समाज के खौफ से दोनों रिश्ते को छुपाकर रखती थी. लेकिन हद तो तब हो गई जब दोनों ने शादी करने का फैसला कर डाला. इसके बाद शुरू हुआ धोखाधड़ी का खेल. दरअसल डॉ आंबेडकर जयंती के मौके पर शहर में पांच दिवसीय भीमनगरी का बड़ा कार्यक्रम होता है. कार्यक्रम के अंतिम दिन सामूहिक विवाह का आयोजन किया जाता है.

शादी सम्मेलन में पहुंचकर प्लान के मुताबिक, एक युवती ने लड़का बनकर रजिस्ट्रेशन करवाया जबकि दूसरी ने उसकी वधु बनने की सहमति जाहिर की. वहां शादी की रस्म होने के बाद दोनों एक किराए के मकान में शिफ्ट हो गई. कुछ दिन बाद खोजबीन करते हुए एक युवती के परिजनों ने उसे पकड़ लिया. इसी दौरान सारा मामला लोगों के सामने खुलकर आ गया. दूसरी युवती के परिजन भी सूचना मिलते ही पहुंच गए. दोनों परिवारों में इस बात को लेकर विवाद भी हुआ जिसके बाद दोनों परिवार पुलिस की शरण में पहुंचे. थाने में दोनों लड़कियों का कहना था कि वे बालिग हैं और अपनी मर्जी से विवाह किया है और वहां भी लड़कियां साथ में रहने की जिद पर अड़ी रहीं. पुलिस ने इस मामले में कोई केस दर्ज नहीं करते हुए मामला मैजिस्ट्रेट के यहां भेज दिया गया है. फिलहाल मैजिस्ट्रेट ही इस मामले का निवारण करेंगे.

योगी आदित्यनाथ पर बरसे अखिलेश यादव, कहा- सत्ता में लौटे तो कराएंगे सभी एन्काउंटर्स की जांच

17 साल के पिता ने दो माह के बेटे को पटककर मार डाला, पत्नी से कहता था- बच्चा मेरा नहीं

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App