Lawanya Suicide

नई दिल्ली, Lawanya Suicide 17 वर्षीय स्कूली छात्रा के केस में अब लोगों के बीच नाराज़गी बढ़ती जा रही है. ये मामला काफी टूल पकड़ रहा है. ईसाई धर्म अपनाने के लिए लावण्या को मजबूर किये जाने पर छात्रा ने आतमहतया कर ली. अब ये मामला ट्विटर पर भी #JusticeForLawanya ट्रेंड कर रहा है.

12वी क्लास की छात्रा ने दी जान

घटना तमिलनाडु के तंजावुर की है. जहां 19 जनवरी को एक स्कूली छात्रा की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गयी. मृतिका का नाम लावण्या है जिसने मजबुर होकर आत्महतया कर ली. आरोप लगाया जा रहा है की इसे धर्म अपनाने के लिए मजबूर करने के बाद लावण्या ने खुदखुशी कर ली.

सामने आया था वीडियो

17 वर्षीय लावण्या लावण्या सेंट माइकल्स गर्ल्स होम बोर्डिंग हाउस में रहती थी. पड़ताल के बाद बीते दिनों उसके द्वारा बनाया गया एक वीडियो भी सामने आया जिसमे स्कूली छात्रा आरोप लगा रही है की उसे ईसाई धर्म अपनाने के लिए मजबूर किया जा रहा है.

BJP अध्यक्ष के ट्वीट के बाद मामले ने पकड़ा तूल

मामला पूरा शांत पड़ जाता जब तमिलनाडु BJP से प्रदेश अध्यक्ष के. अन्नमलाई ने स्थानीय पुलिस की जांच को गैरज़िम्मेदाराना बताया. साथ ही स्थानीय पुलिस के बयान पर सवाल भी उठाए थे. इस वीडियो को उन्होंने अपने ट्विटर पर शेयर भी किया. जहां उन्होंने बताया की वीडियो में लावण्या स्पष्ट गवाही दे रही है की उसपर धर्म परिवर्तन के लिए दबाव बनाया गया था. पर स्थानीय पुलिस इस मामले की दिशा को बदलने के लिए आमादा है. इन सब से परेशां होकर छात्रा ने कीटनाशक दवा खा ली.

यह भी पढ़ें:

Republic Day 2022: 5 घंटे के लिए बंद रहेंगे दिल्ली मेट्रो के ये तीन स्टेशन

BSF and Pakistan Rangers Exchange Sweets on 73rd Republic Day: वाघा बॉर्डर पर जवानों ने मना गणतंत्र दिवस का जश्‍न, BSF और पाकिस्तानी रेंजर्स ने किया मिठाइयों का आदान-प्रदान

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर

SHARE