Election 2022

नई दिल्ली . Election 2022 केंद्रीय कानून मंत्री ने नेशनल वोटर डे पर न्यायपालिका, विधायिका और चुनाव आयोग के बीच तालमेल पर बात करते हुए एक बड़ी बात कही है. उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के जजों को चुनाव आयोग के बारे में सोच समझकर बोलना चाहिए। न्यायपालिका, विधायिका और चुनाव आयोग के बीच अच्छा तालमेल होना जरुरी हैं लेकिन किसी को भी दूसरे के काम में दखलंदाजी नहीं करनी चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि किसी की भी आलोचना करना ठीक है और की जा सकती है लेकिन भाषा का मर्यादा रहना चाहिए।

पिछले 7 चुनाव लड़ने का अनुभव अच्छा रहा- कानून मंत्री

किरण रिजिजू ने कहा कि देश में सभी लोगों के पास वोटर कार्ड है और यह सबसे महत्वपूर्ण है, जो नागरिक अधिकार और लोकतंत्र के महत्व को दर्शाता है. केंद्रीय चुनाव आयोग पिछले कई सालों से बेहतरीन काम कर रहा है और मेरा खुद का पिछले 7 चुनाव लड़ने का अनुभव अच्छा रहा हैं. उन्होंने कहा कि ‘संसद से लॉ रिफॉर्म वाला बिल पास तो हो गया लकिन मुझे उस समय हंगामे के चलते सराहना करने का मौका नहीं मिला। किरण रिजिजू ने कहा कि आने वाले दिनों में और भी चुनाव सुधार किए जाएंगे.’

चुनाव आयोग की बुराई करना सही नहीं

किरण रिजिजू ने कहा कि चुनाव आयोग ने कोरोना के समय पर बहुत ही सराहनीय कार्य किया हैं. कोरोना के समय पर चुनाव को आयोजित करना एक चुनौतीपूर्ण काम है, इसलिए आयोग की आलोचना करना सही नहीं है. उन्होंने कहा, जो लोग लोकतंत्र को चुनौती देना चाहते हैं वो चुनाव आयोग और चुनाव को ही चुनौती देने लगते हैं.

यह भी पढ़ें:

RCF Apprentice Recruitment 2022: रेलवे करने जा रहा है 56 पदों पर बहाली, यहां देखें पूरी डिटेल

Taunt of Keshav on SP List : सपा की लिस्ट पर केशव का तंज, अपराधियों को टिकट देकर दहशत फैलाने की कोशिश

SHARE